• Aapki Saheli
  • Astro Sathi
  • Business Khaskhabar
  • ifairer
  • iautoindia
1 of 4

सावन में रखा इन बातों पर ध्यान्‍ा तो हो जाएंगे चंद दिनों में निहाल

सावन महादेव का प्रिय मास है। कहते हैं इस पूरे माह महादेव संसार सागर में विचरण करते हैं और जहां भी भक्ततगण भक्तिभाव से उन्हें स्मरण करते हैं, पूजा-अर्चना करते हैं वे वही उसे आशीर्वाद देकर उनकी मनोकामना पूरी करते हैं। महादेव, बिल्व पत्र और पूजा-अर्चन से जुडी कई ऐसी बातें हैं, जो बहुत कम लोगों को पता हैं। यदि से सारी बातें आमजन को पता लगे तो उनका जीवन संवर सकता है।

बिल्व पत्र के रहस्य
बिल्व वृक्ष के आसपास सांप नहीं आते। अगर किसी की शव यात्रा बिल्व वृक्ष की छाया से होकर गुजरे तो उसका मोक्ष हो जाता है। वायुमंडल में व्याप्त अशुध्दियों को सोखने की क्षमता सबसे ज्यादा बिल्व वृक्ष में होती है। चार पांच छः या सात पत्तों वाले बिल्व पत्रक पाने वाला परम भाग्यशाली और शिव को अर्पण करने से अनंत गुना फल मिलता है। बेल वृक्ष को काटने से वंश का नाश होता है और बेल वृक्ष लगाने से वंश की वृद्धि होती है।


सुबह शाम बेल वृक्ष के दर्शन मात्र से पापो का नाश होता है। बेल वृक्ष को सींचने से पितर तृप्त होते है। बेल वृक्ष और सफ़ेद आक् को जोड़े से लगाने पर अटूट लक्ष्मी की प्राप्ति होती है। बेल पत्र और ताम्र धातु के एक विशेष प्रयोग से ऋषि मुनि स्वर्ण धातु का उत्पादन करते थे। जीवन में सिर्फ एक बार और वो भी यदि भूल से भी शिवलिंग पर बेल पत्र चढ़ा दिया हो तो भी उसके सारे पाप मुक्त हो जाते हैं। बेल वृक्ष का रोपण, पोषण और संवर्धन करने से महादेव से साक्षात्कार करने का अवश्य लाभ मिलता है।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य - शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

यह भी पढ़े

Web Title-These things keep in Sawan will be remembered for a few days in Nihal
खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
(News in Hindi खास खबर पर)
Tags: these things, sawan, remembered for a few days in nihal, astrology tips, astrology, astrology in hindi
Khaskhabar.com Facebook Page:

जीवन मंत्र

आपका राज्य

Traffic

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

Copyright © 2018 Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved