• Aapki Saheli
  • Astro Sathi
  • Business Khaskhabar
  • ifairer
  • iautoindia
1 of 3

तिल चौथ : महिलाएं क्यों रखती हैं व्रत, जानें- शुभ मुहूर्त और पूजन विधि

तिल चौथ का व्रत माघ कृष्ण पक्ष की चतुर्थी तिथि के दिन किया जाता है। इसे माही चौथ और संकट चौथ के नाम से भी जाना जाता है। इस दिन भगवान श्रीगणेश की आराधना करना सुख-सौभाग्य की दृष्टि से श्रेष्ठ माना जाता है। उत्तर भारत सहित मध्य प्रदेश, राजस्थान और महाराष्ट्र में इस व्रत को पूरी श्रद्धा के साथ रखा जाता है। इस संकष्टी चतुर्थी, सकट चौथ के पर्व पर महिलाएं अपने परिवार की सुख और समृद्धि के लिए निर्जल व्रत रखेंगी और गणेश जी की पूजा करेंगी। जिससे उनके परिवार पर कभी भी किसी भी तरह से कोई परेशानी न आए।

संकट चौथ का शुभ मुहूर्त-

तिल चौथ संकट चौथ पर चंद्रोदय का समय रात्रि 8.20 मिनट पर शुभ मुहूर्त हैं इसमें चन्द्रमा को जल अर्पित किया जाता हैं उसके बाद ही व्रत खोलकर खाना खाया जाता हैं। सबसे पहले भगवान् गणेश की मूर्ति को पंचामृत से स्नान करने के बाद फल, लाल फूल, अक्षत, रोली, मौली अर्पित करें और फिर तिल से बनी वस्तुओं अथवा तिल-गुड से बने लड्डुओं का भोग लगाकर भगवान गणेश की स्तुति की जाती है। सकट चौथ पर 108 बार गणेश मंत्र - ओम गणेशाय नम: का जप करें, अपने हर दु:ख को भगवान गणेश से कहे। इससे आप पर आने वाली हर एक विपदा का समाधान होगा और जो भी परेशानियां चली आ रही हैं उससे भी मुक्ति मिलेंगी।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य - शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

यह भी पढ़े

Web Title-sankashti chaturthi 2018: know about pooja vidhi and sankashti chaturthi vrat katha
खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
(News in Hindi खास खबर पर)
Tags: sankashti chaturthi 2018, pooja vidhi, sankashti chaturthi vrat katha, sankashti chaturthi, sakat chauth vrat katha, til chauth 2018, til chauth vrat katha, astrology in hindi
Khaskhabar.com Facebook Page:

जीवन मंत्र

आपका राज्य

Traffic

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

Copyright © 2020 Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved