• Aapki Saheli
  • Astro Sathi
  • Business Khaskhabar
  • ifairer
  • iautoindia
1 of 1

जॉन पर कैसे काबू पाते हैं शाहरुख खान, इसी बात पर टिकी है पठान की सफलता

—राजेश कुमार भगताणी

बहुप्रतीक्षित और बहुविवादित पठान का ट्रेलर जारी हो गया। सिद्धार्थ आनन्द की पिछली एक्शन से भरपूर फिल्मों को देखते हुए यह तो पहले से ही अहसास हो गया था कि उनके निर्देशन में पठान में शाहरुख खान और जॉन अब्राहम बेहतरीन एक्शन मोड में नजर आएंगे। ट्रेलर पूरी तरह से एक्शन से भरा है। ट्रेलर ने स्पष्ट कर दिया है कि फिल्म की शुरूआत पहले खलनायक के हमलों से होगी उसके बाद नायक को बुलाया जाएगा।

कहानी बहुत सामान्य है जॉन अब्राहम एक ऐसे आतंकवादी ग्रुप के सरगना है जो पैसों के लिए किसी भी देश में कभी भी हमला कर सकता है और अब वह भारत को अपने निशाने पर ले रहा है। वह चेतावनी देने के बाद अपने काम पर जुटता है। देश को दुश्मन के इस आक्रमण से बचाने के लिए सर्वश्रेष्ठ एजेंट पठान को बुलाया जाता है। यह ठीक उसी तरह से है जिस तरह से टाइगर सीरीज की दोनों फिल्मों में अभिनेता गिरीश कर्नाड टाइगर को बुलाते हैं। वहाँ की तरह यहाँ भी एक महिला जासूस है जिसे पठान के साथ मिशन में शामिल कर लिया जाता है। वाईआरएफ स्पाई यूनिवर्स पर आधारित यह फिल्म एक था टाइगर (2012), टाइगर जिंदा है (2017) और वॉर (2019) के बाद स्पाई यूनिवर्स में चौथी किस्त है। यह यशराज फिल्म्स की सबसे महंगी फिल्म है। यह फिल्म वाईआरएफ की पहली डॉल्बी सिनेमा रिलीज है और पहली बॉलीवुड फिल्म है जिसे पूरी तरह से आईमैक्स कैमरों के साथ शूट किया गया है।

साधारण सी कहानी को एक्शन और ग्लैमर के सहारे दर्शकों के लायक बनाने का प्रयास सिद्धार्थ आनन्द ने किया है। इस कहानी या यूं कहें कि फिल्म की सफलता इस बात पर टिकी है कि शाहरुख खान दीपिका के साथ मिलकर किस तरह से जॉन अब्राहम को काबू में करते हैं। फिल्म में सलमान खान की भी विशेष भूमिका बताई जा रही है लेकिन ट्रेलर में इसकी कोई झलक नहीं दिखाई गई है।

सिद्धार्थ आनन्द ने बैंग-बैंग और वॉर में भी भरपूर एक्शन दिखाया था। यहाँ भी उन्होंने एक्शन दिखाने में कोताही नहीं बरती है। रोमांस के बादशाह शाहरुख खान को एक्शन करते हुए देखना रोमांचित करता है। गत वर्ष प्रदर्शित हुई ब्रह्मास्त्र में भी उन्होंने एक्शन किया था, जिसे दर्शकों ने पसन्द किया था। यहाँ पठान के ट्रेलर में दर्शक शाहरुख के एक्शन को देखकर दीवाने हो गए हैं। वैसे शाहरुख एक्शन करते हुए भी चेहरे पर भावनाओं का ज्वार लाने में सफल रहते हैं।

आदित्य चोपड़ा ने इस फिल्म पर अपनी पिछली सफल एक्शन फिल्मों धूम और टाइगर की तरह जमकर पैसा बहाया है। उन्होंने सिद्धार्थ आनन्द और एक्शन निर्देशक को पूरी आजादी दी है दृश्यों की कल्पना करने और उन्हें फिल्माने की। दोनों सितारे जमीन से लेकर आसमान और सडक़ से लेकर बफीले पहाड़ों तक एक-दूसरे का कार, बाइक, हेलिकॉप्टर और हवाई जहाज से पीछा करते नजर आते हैं। यहाँ तक कि सिद्धार्थ आनन्द ने इन दोनों सितारों के साथ रेल के कोचों की छत पर भी एक्शन दृश्य फिल्मा लिया है। पूरी तरह से विदेशों में फिल्माये गये यह दृश्य दर्शकों को हैरत में डालते हैं।

अपने स्पाई यूनिवर्स की पिछली फिल्मों एक था टाइगर, टाइगर जिंदा है और वॉर की तरह आदित्य चोपड़ा ने यहाँ भी कहानी में देश प्रेम को साथ में रखा है। खलनायक भारत को नेस्तनाबूद करना चाहता है और अपने देश को बचाने के लिए कुर्बान होने को तैयार सोल्जर का जज्बा है—सोल्जर यह कभी नहीं पूछता कि देश ने उसके लिए क्या किया बल्कि यह पूछता है देश के लिए उसने क्या किया. . . . जय हिंद। जाहिर सी बात है देश प्रेम की लहर के सहारे फिल्म की सफलता की उम्मीद की गई है। आदित्य का यह प्रयास उनकी पिछली फिल्मों में रंग लाया था उम्मीद है यह प्रयास यहाँ भी सफल होगा।

ट्रेलर से यह तो जाहिर हो गया है कि फिल्म का एक्शन जोरदार है। इस कसौटी पर सिद्धार्थ आनन्द खरे उतरते हैं लेकिन पटकथा में कुछ कमजोर नजर आते हैं। उन्होंने पठान की सहायता के लिए इस यूनिवर्स के पिछले दो सितारों टाइगर और कबीर को शामिल किया है। सिद्धार्थ को अपने कथानक में इनसे बचना चाहिए था। पठान को उसी तरह से पेश करना चाहिए था जिस तरह से इस यूनिवर्स की पिछली फिल्मों एक था टाइगर, टाइगर जिंदा है और वॉर में टाइगर और कबीर को पेश किया गया था। वैसे भी इन सितारों को एक साथ लेकर आने के दृश्य रोहित शेट्टी की सूर्यवंशी की नकल है। इन दृश्यों को देखकर सलमान और ऋतिक रोशन के हार्डकोर प्रशंसक जरूर प्रसन्न हो सकते हैं। इन दृश्यों की बदौलत भी बॉक्स ऑफिस पर कारोबारी असर पडऩे की उम्मीद है। ट्रेलर पूरी फिल्म की पटकथा का बखान नहीं कर पाता है। हो सकता है सिद्धार्थ आनन्द ने इन सभी को एक साथ दिखाने के लिए पटकथा में कोई मजबूत दृश्यों की परिकल्पना की हो।

कुल मिलाकर यह तय है कि एक्शन से भरपूर यह फिल्म अपने 5 दिन लम्बे वीकेंड में बॉक्स ऑफिस पर 100 करोड़ से ज्यादा का कारोबार करने में सफल हो जाएगी। लेकिन असल सफलता की परीक्षा 30 जनवरी सोमवार को होगी जब फिल्म का उन्माद कुछ ठंडा हो चुका होगा और वर्किंग डे होगा।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

यह भी पढ़े

Web Title-How Shah Rukh Khan manages to control John, Pathans success rests on this factor
खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
(News in Hindi खास खबर पर)
Tags: how shah rukh khan manages to control john, pathans success rests on this factor, salman khan, hritik roshan, bollywood news in hindi, bollywood gossip, bollywood hindi news
Khaskhabar.com Facebook Page:

बॉलीवुड

आपका राज्य

Traffic

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

Copyright © 2023 Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved