1 of 1

कांग्रेसी व अकाली पार्षद में तकरार , विरोध के बावजूद एजेंडे पास

Wrangling in Congress and SAD councilor, despite opposition to the agenda - News in Hindi

भठिंडा। नगर निगम की जनरल हाउस की बैठक में पहले आज उरी के शहीदों को दो मिनट का मौन रख कर श्रद्धांजलि भेंट की गई जिसके बाद बैठक का काम काज शुरू हुया। बैठक में वरिष्ठ डिप्टी मेयर तरसेम गोयल व डिप्टी मेयर गुरन्द्रि कौर मांगट (दोनों भाजपा पार्षद)बैठक के शुरू होने के कुछ समय बाद ही उठ कर चले आये व नीचे कमरे में आ कर बैठ गये। उसके बाद वह भोग कार्यक्रम में चले गये। उनकी अनुपस्थिति काफी खटकती रही। इस सम्बंध में जानकारी लेने के लिये जब तरसेम गोयल से सम्पर्क करने का प्रयास किया गया तो उन्होंने मोबाइल ही नहीं उठाया।

अकाली-कांग्रेसी पार्षद भिड़े

बैठक में अकाली व कांग्रेसी पार्षदों में तकरार वाजी हुई वहीं कांग्रेसी निगम पार्षदों के अतिरिक्त सतारूढ दल के कई अकाली व भाजपा पार्षद भी अपने-अपने वार्डों में विकास कार्यों से असंतुष्ट दिखे। कांग्रेसी पार्षदों ने अधिकारियों पर पक्षपात के आरोप भी लगाये। बैठक में नगर निगम के मेयर बलवंत राय नाथख् नगर निगम आयुक्त अनिल गर्ग, विशेष सदस्य व विधायक सरूप सिगला, नगर निगम के अधिकारी, सीवरेज बोर्ड के अधिकारी भी उपस्थित थे। बैठक में जैसे ही एजैंडों बारे प्रस्ताव लाया गया तभी कांग्रेसी पार्षद जगरूप गिल एडवोकेट ने कहा कि पहले निगम पार्षदों की समस्यायें सुनी जायें फिर कोई एजैंडा रखा जाये। इस पर सभी की सहमति बन गई।

कांग्रेस की शैरी गोयल, राजा सिंह, बेअंत सिंह रंधावा , मलकीत सिंह ने अपने वार्डों की समस्यायों को लेकर निगम अधिकारियों पर पक्षपात के आरोप लगाये। वहीं कांग्रेस के वरिष्ठ पार्षद जगरूप सिंह गिल एडवोकेट ने कहाकि पक्षपात के कारण ही गुरूकुल रोड को प्रेजैक्ट से निकाल दिया गया। गुरूकुल रोड को जानबूझ कर नहीं बनाया गया क्योंकि यह कांग्रेसी वार्ड है। इस दौरान कांग्रेस की शैरी गोयल व अकालीदल की संतोष महंत में तकरार भी हुई। कांग्रेसी राजा सिंह ने कहाकि उनके वार्ड में पानी के एक नल की समस्या एक वर्ष से लटक रही है। आजाद प्रत्याशी जीत कर अकाली दल में शामिल हुये पार्षदों हरविंदर गंजू व प्रदीप गोला ने भी अपने वार्डों में समस्यायों के पिटारे खोले ।
सत्तारूढ़ अकाली पार्षदों गुरबचन खुब्बन, राजिन्द्र सिंह सिधू व कई अन्यों ने भी अपने वार्डों की समस्यायों का जिक्र बैठक में किया। कई पार्षदों ने तो त्रिवेणी कंपनी को निगम पर ग्रहण बताया। कई वार्डों में सीवरेज की समस्या के मामले पार्षदों ने उठाये। अकाली पार्षद संतोष महंत ने कहाकि उनका क्षेत्र पिछड़ा होने के कारण वहां बढिय़ा सरकारी स्कूल खोला जाये। विधायक सरूप सिंगला ने बैठक में कहाकि बठिंडा-मानसा रोड पर लगे कचरा प्लांट की जगह को तबदील किया जा रहा है इसलिये इस प्लांट को लगाने के लिये और जगह चुनी जायेगी। उन्होंने कहाकि वह इसके लिये सरकार को लिख कर भेज रहे हैं। बैठक में कांग्रेसी पार्षदों के विरोध में के बावजूद सभी 6 एजैंडे पास कर दिये गये। बैठक में मेयर बलवंत राय नाथ ने कहा कि वह किसी से कोई पक्षपात नहीं कर रहे। वह स्वयं कांग्रेस में रहे हैं। उन्होंने कभी बैठक में गलत आरोप नहीं लगाये।


Wrangling in Congress and SAD councilor, despite opposition to the agenda


खास खबर की चटपटी खबरें, अब Facebook पर पाने के लिए लाईक करें...
loading...
Advertisement
स्थानीय ख़बरें
Advertisement

पंजाब से

सर्वाधिक पढ़ी गई

प्रमुख खबरे

Advertisement
Advertisement

राष्ट्रीय खबर

Traffic

सर्वाधिक पढ़ी गई

Advertisement

जीवन मंत्र

Daily Horoscope