1 of 1

अब भी सहम जाते है इस गांव के लोग

The Village People are still afraid - News in Hindi

अमृतसर। उरी में आर्मी बेस पर आतंकी हमले के बाद सारे देश की जनता इस समय गुस्से में है जगह जगह पाकिस्तान के खिलाफ कारवाई करने को लेकर प्रदर्शन किये जा रहे है वही भारत पाक सरहद पर स्थित दाऊके गॉव के लोग इस समय परेशान है क्योंकि ये गॉव सरहद से महज 100 मीटर की दूरी पर स्थित है । इस गॉव के लोगो को पता है की जब भी दोनों देशो में तनाव पैदा होता है तो सबसे ज्यादा मुश्किलें और सबसे पहले गॉव उन्ही का खाली करवाया जाता है। इतना ही नहीं तनाव पैदा होने पर लोग बच्चो को स्कूल भी नहीं भेज रहे है क्योंकि उनको लगता है की किसी भी समय कुछ भी हो सकता है।

अमृतसर की सरहद पर स्थित ये है गॉव दाऊके और इस गॉव में एक ही सरकारी स्कूल है जिसमे पड़ने वाले बच्चो की तादाद लगभग 180 है लेकिन इस समय इस स्कूल में आपको कुछ गिने चुने बच्चे ही आ रहे है। इसकी मुख्य वजह है भारत पाक के बीच बढ़ता हुआ तनाव लोग स्कूल में भेजने की बजाए अपने बच्चो को घर में ही पढा रहे है । बच्चो के परिजनों अभी पिछली लड़ाई 1965 और 1971 की लड़ाई को नहीं भूले है क्योंकि उस लड़ाई में चाहे भारत ने पाकिस्तान को धूल चटाई थी। उस लड़ाई में फ़ौज ने उनके गॉव पर कब्ज़ा कर लिया था और उन्हें गॉव खाली कर किसी सही जगह जाने के लिए कहा था उनके मुताबिक अपना सामान घर छोड़ कर अपने रिश्तेदारो शरण ली अमृतपाल के मुताबिक पाकिस्तान बार बार आतंकवादी हमला कर रहे है और पाकिस्तान का कोई भरोसा नहीं की वह स्कूल बस पर ही हमला करवा दे इसलिए वह अपने बच्चो को अपनी आँखों घर में ही रखना चाहते है अमृतपाल के मुताबिक कारगिल की लड़ाई में भी उन्हें अपना घर खाली करना पड़ा था और वह इस लड़ाई को नहीं चाहते बल्कि अमन शांति चाहते है हरप्रीत के मुताबिक भारत पाक के रिश्ते ख़राब है। वह अपने बच्चो की सुरक्षा चाहते है इसलिए वह अपने बच्चो को स्कूल नहीं भेजना चाहते । उनका कहना है की रात को वह सो भी नहीं पाते अगर रात को थोड़ी सी आवाज़ भी आती है तो वह सहम जाते है।
दाऊके के रहने वाले बजुर्गो ने आज तक की लड़ाई में मिले दुखो को आज तक नहीं भूल पाए उनका कहना है की सब युधो में उन्हें काफी मुश्किलो से गुजरना पड़ा उनकी फसल भी ख़राब हुई लकिन सर्कार दुवारा घोषित किया हुआ मुआवजा भी उन्हें अब तक नहीं मिला उनका कहना है की भारत पाक सरहद पर उनका गॉव होने की वजह से वह रात को पूरी नींद भी नहीं सो पाए ।

The Village People are still afraid


खास खबर की चटपटी खबरें, अब Facebook पर पाने के लिए लाईक करें...
loading...
Advertisement
स्थानीय ख़बरें
Advertisement

पंजाब से

सर्वाधिक पढ़ी गई

प्रमुख खबरे

Advertisement
Advertisement

राष्ट्रीय खबर

Traffic

सर्वाधिक पढ़ी गई

Advertisement

जीवन मंत्र

Daily Horoscope