1 of 1

बेची जमीन के पैसे न देने कारण की थी खुदकुशी, चौथे दिन भी नहीं हुआ अंतिम संस्कार

The land was sold because of paying suicide, was the fourth day funeral - News in Hindi

मानसा। अपनी बेची हुई जमीन के बकाया रहे पैसे न मिलने से आहत गांव मलकपुर ख्याला के किसान गुरमेल सिंह द्वारा वीरवार की रात को की गई आत्महत्या का मामला संघर्ष में बदल गया है। पहले किसान परिवार व संगठनों का इस मामले में खरीददार के साथ जमीन लौटाने व डेढ़ लाख रुपये देने की बात पर समझौता हो गया था, लेकिन किसान संगठनों के अनुसार सोमवार को खरीददार अपने किए समझौते पर खरा नहीं उतरा। मृतक के परिजनों व संगठनों ने इस संबंध में थाना सदर के समक्ष धरना लगाकर रोष प्रदर्शन किया।
पंजाब किसान यूनियन के प्रधान रुलदू सिंह, इकबाल सिंह फफड़े व छच्जू राम ऋषि ने कहा कि गुरमेल सिंह को आत्महत्या के लिए मजबूर करने वाले धनाढ्य जमींदार तथा उसके बेटों को अभी तक पुलिस ने गिरफ्तार नहीं किया है। उक्त जमींदार व उसके परिवार ने गुरमेल सिंह की 9 कनाल जमीन बिक्री करवाकर उसके पैसे नहीं दिए तथा पैसे मांगने पर गुरमेल सिंह को जलील किया। जिसके कारण उसने उसी खेत में जाकर खुदकुशी कर ली। परिवार ने पंजाब किसान यूनियन व जमहूरी किसान सभा तक पहुंच की तो यूनियन नेताओं की मौजूदगी में एक समझौता हुआ था, जिसके मुताबिक मृतक के परिवार को उसकी 9 कनाल जमीन लौटाने के साथ उसके इलाज आदि पर हुआ खर्चा जमींदार ने परिवार को देना था, लेकिन पुलिस की मिलीभुगत से वह समझौते से मुकर गया। अभी तक पुलिस ने उसको व उसके बेटों को गिरफतार नहीं किया। यदि पुलिस ने आरोपियों को तुरंत गिरफ्तार न किया तो संघर्ष ओर तेज किया जाएगा तथा तब तक मृतक किसान का संस्कार नहीं किया जाएगा। उन्होंने एसएसपी व उपायुक्त द्वारा मामले की जांच करके आवश्यक कार्यवाही की मांग की।

इस मौके सीपीआई(एमएल) लिबरेशन के नछत्तर सिंह खीवा, करनैल सिंह मानसा, हरजिंदर सिंह मानशाहिया, जमहूरी किसान सभा के जिला प्रधान अमरीक सिंह फफड़े, इकबाल सिंह फफड़े, पंजाब किसान यूनियन के ब्लाक प्रधान साधु सिंह बुर्ज ढिल्लवां, जिला प्रधान भोला सिंह समाओ, केवल सिंह अकलिया व उग्गर सिंह मीरपुरिया भी मौजूद थे।

जांच के बाद होगी कार्रवाई : थाना प्रभारी
थाना सदर मानसा के प्रमुख सरबजीत सिंह चीमा का कहना है कि किसान के साथ जमीन बेचने आदि के मामले में धोखाधड़ी हुई है, इस संबंध में जांच किए बिना कुछ भी कह पाना सवंभव नहीं है। उनके अनुसार संगठन व अन्य लोग कथित आरोपी ठहराए जा रहे जमींदार से पैसे दिलवाने के लिए दबाव डाल रहे हैं, जोकि पुलिस के अधिकार क्षेत्र में नहीं आता। पुलिस पीडित परिवार द्वारा दिए गए बयानों की जांच कर रही है तथा उसके बाद ही कार्यवाही की जाएगी।
खास खबर Exclusive : लुटेरे की इस गैंग के शातिर तरीके से अफसर भी खा गए धोखा

खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
Web Title:The land was sold because of paying suicide, was the fourth day funeral
(News in Hindi खास खबर पर)
loading...
Advertisement
Khaskhabar Punjab Facebook Page:
Advertisement
स्थानीय ख़बरें
Advertisement

पंजाब से

सर्वाधिक पढ़ी गई

प्रमुख खबरे

Advertisement

राष्ट्रीय खबर

Traffic

Advertisement

जीवन मंत्र

Daily Horoscope