1 of 1

हाईकोर्ट ने सरकार से मांगा सफाई व्यवस्था का रोडमैप

The High Court asked the government for Sanitation Road map - News in Hindi

जयपुर। स्वच्छ भारत अभियान और करोड़ों के सफाई बजट के बाद शहरों में पसरी गदंगी से नाराज हाईकोर्ट ने प्रदेश की सरकार को चार सप्ताह में सभी जिलों की सफाई व्यवस्था का रोडमैप मय शपथ पत्र के देने को कहा है। इस प्रकरण पर अब सुनवाई 9 जनवरी को होगी। न्यायाधीश अजय रस्तोगी व न्यायाधीश संजीव प्रकाश शर्मा की खंडपीठ ने सीकर के केसर महावीर सेवा ट्रस्ट व इंडियन मेडिकल एसोसिएशन की सीकर जिला शाखा की ओर से दायर जनहित याचिका पर यह आदेश दिया। प्रार्थीपक्ष के अधिवक्ता ने कोर्ट को बताया कि सीकर में कई ऐतिहासिक हवेलियां है और उन्हें देखने लोग आते रहते हैं। अव्यवस्थाओं के कारण लोगों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। राज्य सरकार ने 11 मार्च 2015 को ठोस कचरे के निस्तारण के लिए अधिसूचना जारी की और शहरी निकायों को साफ-सफाई के लिए दिशा निर्देश दिए, लेकिन इनकी पालना नहीं हो रही है।

बेटी की शादी में पहुंचे आमिर खान, परिवार ने नहीं लिया जोडा, तस्वीरें

खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
Web Title:The High Court asked the government for Sanitation Road map
(News in Hindi खास खबर पर)
Advertisement
loading...
Advertisement
Khaskhabar Rajasthan Facebook Page:
Advertisement
Advertisement
स्थानीय ख़बरें

राजस्थान से

Advertisement
Advertisement

Advertisement

सर्वाधिक पढ़ी गई

प्रमुख खबरे

Advertisement

राष्ट्रीय खबर

Traffic

Advertisement

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

# उदयपुर। एमजी कॉलेज शपथ ग्रहण कार्यक्रम में हुआ विरोध। गृहमंत्री को पहुंचना था कार्यक्रम में लेकिन, नहीं पहुंचे। अपने माता-पिता की मौजूदगी में कार्यकारणी लेना चाहती थी शपथ लेकिन, कॉलेज प्रशासन ने नहीं दी थी अनुमति। कार्यक्रम के बाद विरोध करती छात्राएं निकलीं कॉलेज से बाहर। महापौर चंदर सिंह कोठारी की गाड़ी के आगे भी खड़ी हुईं छात्राएं। महापौर के समक्ष जताया विरोध। महापौर कोठारी पैदल निकल पड़े कॉलेज से। अध्यक्ष डिम्पल भावसार सहित पूरी कार्यकारिणी ने नहीं ली शपथ। अब तक 3 बार टल चुका है छात्रसंघ कार्यलय का उद्घाटन। # जयपुर। मंत्रिमंडल विस्तार को लेकर राजभवन में शुरू हुई हलचल, दो बजे होगा विस्तार, डॉ. जसवंत यादव, श्रीचंद कृपलानी, भागीरथ चौधरी, बंशीधर बाजिया, सुशील कटारा, कमसा मेघवाल, कैलाश वर्मा और कामिनी जिंदल को बनाया जा सकता है मंत्री।