1 of 1

...तो इसलिए लौटाएगा शहीद का परिवार सेना से मिला सम्मान

so why martyr family return the military honour - News in Hindi

लुधियाना। देश के लिए प्राण न्यौछावर करने वाले शहीदों के परिवार किस हाल में जीवन गुजर-बसर करते हैं ये शायद सरकारें भूल जाती है। उनके परिवारों को शहीद की शहादत के समय बड़े-बड़े वादे तो किए जाते है लेकिन वे कितना पूरा हुए इसका ध्यान कोई नहीं रखता है। वर्ष 1987 में शहीद हुए हवलदार कश्मीर सिंह को सम्मान के तौर पर सेना ने मैडल से नवाजा था। साथ ही उनके परिवार को मदद के ढेरों वादे किए गए थे। लेकिन करीब तीस वर्ष बाद भी परिवार सहायता की बाट जोह रहा है। इसी के रोष स्वरूप कश्मीर सिंह की पत्नी प्रधानमंत्री के लुधियाना दौरे के समय सेना का मैडल लौटाने जा रही है। उनकी पत्नी विशेष तौर पर प्रधानमंत्री को मैडल लौटाने लुधियाना आई है।

खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
Web Title:so why martyr family return the military honour
(News in Hindi खास खबर पर)
loading...
Advertisement
Khaskhabar Punjab Facebook Page:
स्थानीय ख़बरें
Advertisement

पंजाब से

सर्वाधिक पढ़ी गई

प्रमुख खबरे

Advertisement

राष्ट्रीय खबर

Traffic

Advertisement

जीवन मंत्र

Daily Horoscope