1 of 2

देश में बढ़ती हुई मंहगाई के विरोध में वित्त मंत्री का पुतला फूंका

बस्ती । देश में बढ़ती हुई मंहगाई के विरोध में आज राष्ट्रीय लोक दल पार्टी के कार्यकर्ताओं ने वित्त मंत्री का पुतला जलाय।
बस्ती जनपद में राष्ट्रीय लोक दल के नगर अध्यक्ष धनन्जय सिंह और मण्डल अध्यक्ष ओम प्रकाश के नेतृत्व में वित्त मंत्री के ख़िलाफ़ जुलूस निकाल कर डीएम कार्यलय के सामने वित्त मंत्री का पुतला जलाया । भाजपा को किसान विरोधी बताते हुए कहा कि जब से भाजपा की सरकार बनी है, किसान मंहगाई से त्रस्त है। डीजल और पेट्रोल के दाम हमेशा बढ़ रहे हैं। किसानों और ग़रीबो की कमर टूटी जा रही है। जिसके विरोध में आज हम लोगो ने वित्त मंत्री का पुतला जलाया।

खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
Web Title:protest against rising prices in the country burnt effigies of finance minister
(News in Hindi खास खबर पर)
Advertisement
Khaskhabar UP Facebook Page:
Advertisement
स्थानीय ख़बरें

उत्तर प्रदेश से

Advertisement

प्रमुख खबरे

आपका राज्य
Advertisement

राष्ट्रीय खबर

Traffic

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

# बूथ स्तरीय जागरूकता समूह करेगा वोटरों को जागरूक # डा. बंसल मर्डर मिस्ट्री : चुनावी मुद्दा बनने से पहले सीबीआई को मिल सकती है जांच # जाट आरक्षण संघर्ष समिति ने की पंचायत # मतदाता जागरुकता रैली का आयोजन # वाराणसी- गणतंत्र दिवस के चलते एयरपोर्ट की बढाई सुरक्षा # 12 हजार का कुख्यात ईनामी बदमाश संजीव खड़कड़ी गिरफ्तार # टिकट नहीं मिलने से नाराज सपा विधायकों ने अखिलेश के खिलाफ खोला मोर्चा # मायावती ने कांग्रेस का उड़ाया मजाक तो बीजेपी-सपा पर साधा जमकर निशाना # सपा प्रत्याशी सुनील चौधरी पर आचार संहिता उल्लंघन का मामला दर्ज # बसपा का समर्थन करें मुसलमान : मायावती # यूपी में ठंड से राहत, लखनऊ में स्कूल खुले # बसपा आरएसएस को आरक्षण खत्म नहीं करने देगी : मायावती # UP ELECTION: छोटे दलों की बड़ी उड़ान # सपा छोड़ बसपा में शामिल हुए पूर्व मंत्री अंबिका चौधरी # समाजवादी पार्टी ने 12 जिला कार्यकारिणी भंगकर बनाए नए जिलाध्यक्ष # स्वागत द्वारों पर लगी है प्रचार सामग्री, नहीं हो रहा आचार संहिता का पालन # गाजियाबाद: मोबाइल को लेकर हुआ विवाद तो दोस्तों पर बरसाई गोलियां, एक की मौत # वाराणसी: अस्पताल के वार्ड ब्वॉय की सिर कुचलकर हत्या # यूपी चुनाव: गठबंधन को बचाने प्रियंका आई आगे, अखिलेश के पास भेजा दूत