• Aapki Saheli
  • Astro Sathi
  • Business Khaskhabar
  • ifairer
  • iautoindia
  • Results
Advertisement
Advertisement
1 of 1

प्रदेश की जनता ने ‘भारत बंद’ को नकाराः धूमल

people of the state rejected the call of bharat band - Shimla News in Hindi

शिमला। पूर्व मुख्यमंत्री एवं नेता प्रतिपक्ष प्रो. प्रेम कुमार धूमल ने कहा है कि विपक्षी दलों द्वारा भारत बंद के आह्वान को प्रदेश की जनता ने नकार कर साबित कर दिया है कि वह कालेधन व नकली नोटों के खातमे के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के साथ मजबूती से खड़ी है। लोगों ने कालेधन के पक्षधर नेताओं और उनकी नकारात्मक राजनीति को पूरी तरह नकार दिया है। नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि नोटबंदी के फैसले के चलते कालेधन से चल रही एक समानांतर अर्थव्यवस्था पूरी तरह खत्म हो जाएगी और कुछ लोगों की तिजोरियों में रखा कालाधन बाहर आने से देश के विकास और गरीब जनता के उत्थान के लिए अनेक योजनाएं बनाई जा सकेंगी। आतंकवादी और असामाजिक तत्वों को कालेधन की सप्लाई न हो पाने की वजह से देश की एकता व अखण्डता को अक्षुण रखा जा सकेगा। प्रो. धूमल ने कहा कि विपक्षी नेताओं को अब भली भांति समझ जाना चाहिए कि देश की जनता कालेधन और कालेधन को प्रश्रय देने वालों के खिलाफ है। जो लोग जनता की मुश्किलों की आड़ में राजनीति करने का प्रयास कर रहे थे, जनता ने उन्हें नकार दिया है और यह भी दर्शा दिया है कि इस तरह की राजनीति करने वाले लम्बे समय तक टिके नहीं रह पाएंगे। प्रो. धूमल ने कहा कि देश नवनिर्माण की राह पर चल पड़ा है। राष्ट्र निर्माण के लिए सभी दलों को एकजुटता दिखाते हुए ऐसे निर्णय, जिनसे देश के विकास की राहें खुलती हों, के पक्ष में खड़ा होना चाहिए। भारत विश्व गुरू बन सके और विकसित राष्ट्रों की श्रेणी में खड़ा हो सके, इसके लिए विरोध की राजनीति का रास्ता छोड़कर देशहित में लिए गए निर्णयों के साथ खड़ा हो जाना चाहिए।
नोटबंदी: नई-पुरानी करेंसी पर गजल और गीत, वायरल हुए जुमले

Web Title-people of the state rejected the call of bharat band
खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
(News in Hindi खास खबर पर)
Advertisement
Khaskhabar.com Facebook Page:
Advertisement
स्थानीय ख़बरें

हिमाचल प्रदेश से

प्रमुख खबरे

आपका राज्य
Advertisement

Traffic

Advertisement

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

Advertisement
Copyright © 2017 Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved