• Aapki Saheli
  • Astro Sathi
  • Business Khaskhabar
  • ifairer
  • iautoindia
  • Results
Advertisement
Advertisement
1 of 1

29 नवंबर से नई करेंसी में जमा पैसे निकालने की सीमा सशर्त खत्म

November 29 in the new currency deposits over conditional cash withdrawal limit - India News

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी बडे नोटों को बंद करने की घोषणा के बाद से 27 नवंबर तक बैंकों में कुल 8,44,982 करोड़ रुपए का ट्रांजैक्शन हुआ है। इसमें 33,948 करोड़ रुपए लोगों ने एक्सचेंज कराए हैं, जबकि 8,11,033 करोड़ रुपए बैंकों में जमा किए गए हैं। वहीं दूसरी ओर, लोगों ने बैंक या एटीएम के जरिए अपने खातों से 2,16,617 करोड़ रुपए निकाले हैं। इसमें बैंक काउंटर और एटीएम दोनों से निकाला गया पैसा शामिल है। इन आंकड़ों में आरबीआई के खुद के, कमर्शियल बैंक, क्षेत्रीय, ग्रामीण बैंक, अर्बन को-ऑपरेटिव बैंक समेत सभी आंकड़ें शामिल हैं और सभी बैंकों से मिले ट्रांजेक्शन की जानकारी के आधार पर ये खुलासा किया गया है।

जाहिर है नोटबंदी के बाद देश के पैसे की पूरी तस्वीर साफ हो रही है और लोग कितना पैसा जमा कर रहे हैं और कितना पैसा निकाल रहे हैं। आरबीआई ने जो आंकड़ें पेश किए हैं वो बहुत बड़े कैश के लेनदेन को दिखा रहे हैं।

भारतीय रिजर्व बैंक ने पाया कि बहुत सारे लोग बैंकों में पैसे इसलिए नहीं जमा कर रहे हैं क्योंकि उसके बाद पैसे निकालने में उन्हें दिक्कत का सामना करना पड़ेगा। दरअसल, पैसे निकालने की अधिकतम सीमा 24 हजार रुपए है, जिसकी वजह से ये परेशानी हो रही है। भारतीय रिजर्व बैंक ने एक सर्कुलर जारी करके कहा है कि 29 नवंबर से नई करंसी में जमा किए गए पैसों को निकालने की कोई सीमा नहीं होगी। अगर जमाकर्ता नई करंसी में पैसे जमा करता है, तो वह निर्धारित सीमा से अधिक पैसे निकाल सकता है।


बाबा बनकर दरिंदा लूटता रहा बेटियों की आबरू , महीनों बाद खुला राज

यह भी पढ़े

Web Title-November 29 in the new currency deposits over conditional cash withdrawal limit
खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
(News in Hindi खास खबर पर)
Advertisement
Khaskhabar.com Facebook Page:

प्रमुख खबरे

आपका राज्य
Advertisement

Traffic

Advertisement

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

Advertisement
Copyright © 2017 Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved