1 of 2

कैसे पढ़े हम, स्कूल के भवन पर ताला, और ना ही शिक्षक

How we read, school lock on the house, nor teacher - News in Hindi

मेवात । हरियाणा सरकार के शिक्षा विभाग के दावों की पोल खोलने के लिए मेवात का खेड़ली नूंह का सरकारी स्कूल ही काफी है। यहां वर्ष 2007 में मिडिल स्कूल बनाया गया था। मिडिल स्कूल पर सर्व शिक्षा अभियान के तहत लाखों रूपये की राशि खर्च कर 9 कमरों का निर्माण कराया गया। लेकिन शिक्षा विभाग की तरफ से शिक्षक नहीं लगाए गए। जिसके कारण मिडिल स्कूल के भवन पर पिछले 7 सालों से ताला लगा हुआ है। स्कूल भवन के दरवाजों पर जाले छाए हुए है। स्कूल परिसर को जंगली घास ने अपने कब्जे में लिया हुआ है। वहीं अध्यापक नहीं होने के कारण मजबूरी में प्राइमरी स्कूल के अध्यापकों को मिडिल स्कूल के बच्चों को शिक्षित करने की जिम्मेदारी निभानी पड़ रही है। मिडिल स्कूल में शिक्षा ग्रहण करने वाले बच्चों की सरकारी रिकार्ड में 62 संख्या दर्ज है। लेकिन अध्यापक न होने से बच्चों की संख्या घट कर मात्र 18 रह गई है। स्कूल में बने शौचालय पर पानी के अभाव में ताला लटका हुआ है। और पढ़े...
How we read, school lock on the house, nor teacher


खास खबर की चटपटी खबरें, अब Facebook पर पाने के लिए लाईक करें...
loading...
Advertisement
स्थानीय ख़बरें
Advertisement

हरियाणा से

सर्वाधिक पढ़ी गई

प्रमुख खबरे

Advertisement
Advertisement

राष्ट्रीय खबर

Traffic

सर्वाधिक पढ़ी गई

Advertisement

जीवन मंत्र

Daily Horoscope