1 of 1

स्वच्छता को अपनी आदत में शुमार करें

Habituated to sanitation - News in Hindi

बाड़मेर। नवाचार के प्रतीक गु्रप फोर पीपुल्स द्वारा जिला प्रशासन एवं नगर परिषद,कई संस्थान एवं मंडलों के सहयोग से विशेष स्वच्छ नगर अभियान चलाया गया। आयोजन में रावत त्रिभुवनसिंह राठौड़ के मुख्य आतिथ्य, यूआईटी चैयरमैन डा.प्रियंका चैधरी की अध्यक्षता और तनसुख शर्मा, डा.लक्ष्मीनारायण जोशी, अधिशाषी अधिकारी ओमप्रकाश ढ़ीढवाल, पार्षद बादलसिंह दैया और कालू जांगिड़ समेत कई लोग उपस्थित थे।
जागरूकता कार्यक्रम में स्वच्छता शपथ दिलाने के बाद रावत त्रिभुवनसिंह राठौड़ ने कहा कि स्वच्छता को अपनी आदत में शामिल करें ताकि घर के बच्चे भी आपसे प्रेरणा लेकर स्वच्छता को अपनाएं। डा.प्रियंका चौधरी ने कहा कि महिलाएं स्वच्छता के प्रति बड़ी जागरूक रहती है, मगर थोड़ी सी लापरवाही के कारण किए कराए पर पानी फिर जाता है। कचरा साफ कर सडक़ एवं नाली में डालने के बजाय कचरा संग्रहण स्थल पर डाले। हमारा मौहल्ला साफ सुथरा रहे, यह हमारी जवाबदेही है। इस दौरान डा.लक्ष्मीनारायण जोशी ने कहा कि स्वच्छता के बारे में बात करने के बजाय अपने से इसकी पालना की आदत डाले।

खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
Web Title:Habituated to sanitation
(News in Hindi खास खबर पर)
Advertisement
loading...
Advertisement
Khaskhabar Rajasthan Facebook Page:
Advertisement
स्थानीय ख़बरें
Advertisement
Advertisement

राजस्थान से

सर्वाधिक पढ़ी गई

प्रमुख खबरे

Advertisement

राष्ट्रीय खबर

Traffic

Advertisement

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

# भरतपुर। सांसद बहादुर कोली सडक़ दुर्घटना में हुए घायल। भरतपुर से दिल्ली जा रहे थे सांसद कोली। यमुना एक्सप्रेस वे पर हुई दुर्घटना। स्कॉर्पियो गाड़ी के टूटे शीशे। लोकसभा में भाग लेने जा रहे थे सांसद कोली। # झुंझुनूं। 13 हैड कांस्टेबलों को पदोन्नति पर चिह्न वितरित, एएसआई बनने पर एसपी एस.के. गुप्ता ने लगाए स्टार, वार्षिक परेड व क्यूआरटी टीम के डेमो का भी किया निरीक्षण, संपर्क सभा में जवानों ने एसपी के समक्ष रखी समस्याएं, इस साल अब तक 52 हैड कांस्टेबल बन चुके हंै एएसआई। # भरतपुर। भरतपुर के भाजपा कार्यकर्ताओं को मिली निराशा। 7 बोर्ड-निगमों में अध्यक्ष व 51 सदस्यों की नियुक्ति में भरतपुर जिले से एक भी कार्यकर्ता का नाम नहीं। नगर सुधार न्यास के अध्यक्ष पद पर भी अभी तक नियुक्ति नहीं होना चर्चा का विषय। भाजपा में गुटबाजी माना जा रहा कारण। आपसी खीचतान व चहेतों को पद दिलाने की मच रही होड़। कार्यकर्ताओं में दिखने लगी निराशा।