1 of 4

अच्छे दिन आ गए कुम्हारों के,दीये की मांग ज्यादा

good times have come potters, lamp demand - News in Hindi

कानपुर। दीपावली पर धन लक्ष्मी को प्रसन्न करने के लिए मिट्टी के दीपक बनाने वाले कुम्हारों के चाक ने गति पकड़ ली है। उनको उम्मीद है कि इस बार लोग परंपरागत मिट्टी के दीपक से ही दीवाली मनाएगें और उन्हें अपार खुशिंया मिलेगी। भारत द्वारा सर्जिकल स्ट्राइक किए जाने के बाद जिस तरह से चीन पाकिस्तान का अप्रत्यक्ष साथ दे रहा है। उसका असर चाइनीज बाजार में भी पड़ने लगा। सामाजिक संगठनों व सोशल मीडिया में लगातार चाइनीज उत्पादों का बहिष्कार किया जा रहा है। जिसके चलते दीपावली के त्यौहार में कुम्हारों के दिन अच्छे आ गए। मिट्टी के दीपक की बढ़ती मांग को देखते हुए कम्हारों की बस्ती में रात-दिन चाक का पहिया रफ्तार पकड़े हुए है। कुम्हारों की गली लक्ष्मीपुरवा के रामदास ने बताया कि बीते एक दशक के बाद पहली बार मिट्टी के बर्तनों की मांग बढ़ी है। उसने बताया कि एक सप्ताह से पूरा परिवार मिट्टी के दीपक बना रहा है। काकादेव के कुम्हारों वाली गली के लक्ष्मीशंकर ने बताया कि एक समय था कि काकादेव में दूर-दराज के लोग दीपक लेने आते थे लेकिन पिछले 10 वर्षों से चाइनीज बाजार ने कमर तोड़ दी थी, इस बार न जाने क्यों लोग मिट्टी के दीपक पर अधिक खरीद रहें है। कुछ भी हो अब मांग को देखते हुए हमें लगता है लोग अपने परंपरागत की ओर उन्मुख हो गए हैं। और पढ़े...

खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
Web Title:good times have come potters, lamp demand
(News in Hindi खास खबर पर)
loading...
Advertisement
Khaskhabar UP Facebook Page:
Advertisement
स्थानीय ख़बरें
Advertisement
Advertisement

उत्तर प्रदेश से

सर्वाधिक पढ़ी गई

प्रमुख खबरे

Advertisement

राष्ट्रीय खबर

Traffic

Advertisement

जीवन मंत्र

Daily Horoscope