1 of 1

बोरवेल से निकली कोमल लेकिन, गांव में छा गया शोक

girl still stuck in the bore in alwar district - News in Hindi

अलवर। रैणी क्षेत्र के बैरेर गांव में स्थित बोरवेल में गिरी छह वर्षीय बालिका कोमल का शव क्षत-विक्षत अवस्था में नवें दिन बुधवार की शाम करीब चार बजे बोरवेल से बाहर निकाल लिया गया। इसके तुरंत बाद बालिका का मौके पर ही पोस्टमार्टम कर शाम करीब 5:45 बजे दाह संस्कार कर दिया गया। एसडीएम सुदर्शन सिंह तोमर ने बताया कि करीब 120 फीट गहरे बोरवेल से बुधवार की शाम चार बजे बालिका कोमल को मृत अवस्था में बाहर निकाल लिया गया। इसमें एनडीआरएफ, सिविल डिफेंस एवं ग्रामीणों का विशेष सहयोग रहा। बोरवेल में फंसी बालिका कोमल को निकालने के लिए बुधवार की सुबह नौ बजे कार्य शुरू किया गया। बोर में पानी डालकर टै्रक्टर के कम्पे्रसर से उसमें हवा का प्रेसर डाला गया। सफलता नहीं मिलने पर एनडीआरफ व सिविल डिफेंस ने तकनीकी सहायता से पाइप को बोगी बनाकर ऊपर से ट्रैक्टर की सहायता से दबाव डालकर फंसी बालिका को नीचे की तरफ पहुंचाया गया। इसके बाद बोरवेल मे फंसी बालिका कोमल का शव निकाल लिया गया। बालिका कोमल का पोस्टमार्टम सीएमएचओ डॉ. हंसराज मीना के निर्देशन में गठित दो सदस्यीय टीम द्वारा किया गया। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक राजेन्द्र प्रसाद चतुर्वेदी ने बताया कि हाइड्रोलिक पाइलिंग मशीन से खोदे गए बोरवेल को बालिका के निकलने के बाद जेसीबी मशीन के सहयोग से भरवा दिया गया है। इसके अलावा बड़े गड्ढे को भरवाने का कोई प्रावधान हुआ तो उसे जरूर भरवा दिया जाएगा।

खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
Web Title:girl still stuck in the bore in alwar district
(News in Hindi खास खबर पर)
Advertisement
loading...
Advertisement
Khaskhabar Rajasthan Facebook Page:
Advertisement
स्थानीय ख़बरें
Advertisement
Advertisement

राजस्थान से

सर्वाधिक पढ़ी गई

प्रमुख खबरे

Advertisement

राष्ट्रीय खबर

Traffic

Advertisement

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

# भरतपुर। सांसद बहादुर कोली सडक़ दुर्घटना में हुए घायल। भरतपुर से दिल्ली जा रहे थे सांसद कोली। यमुना एक्सप्रेस वे पर हुई दुर्घटना। स्कॉर्पियो गाड़ी के टूटे शीशे। लोकसभा में भाग लेने जा रहे थे सांसद कोली। # झुंझुनूं। 13 हैड कांस्टेबलों को पदोन्नति पर चिह्न वितरित, एएसआई बनने पर एसपी एस.के. गुप्ता ने लगाए स्टार, वार्षिक परेड व क्यूआरटी टीम के डेमो का भी किया निरीक्षण, संपर्क सभा में जवानों ने एसपी के समक्ष रखी समस्याएं, इस साल अब तक 52 हैड कांस्टेबल बन चुके हंै एएसआई। # भरतपुर। भरतपुर के भाजपा कार्यकर्ताओं को मिली निराशा। 7 बोर्ड-निगमों में अध्यक्ष व 51 सदस्यों की नियुक्ति में भरतपुर जिले से एक भी कार्यकर्ता का नाम नहीं। नगर सुधार न्यास के अध्यक्ष पद पर भी अभी तक नियुक्ति नहीं होना चर्चा का विषय। भाजपा में गुटबाजी माना जा रहा कारण। आपसी खीचतान व चहेतों को पद दिलाने की मच रही होड़। कार्यकर्ताओं में दिखने लगी निराशा।