1 of 1

सिंह मामले में पहले लें केंद्र सरकार से अनुमति - कोर्ट

get permission from the central government earlier fifteen days in the case - court - News in Hindi

भरतपुर। कांग्रेस विधायक विश्वेन्द्र सिंह की तरफ से आरबीआई गवर्नर और बैंक मैनेजर के खिलाफ शिकायत पर सोमवार को जिला न्यायालय में सुनवाई हुई। इस दौरान कोर्ट ने शिकायतकर्ता को 17दिसंबर तक का समय दिया है। जिसमें वह केंद्र सरकार से शिकायत दर्ज कराने की स्वीकृति लेकर कोर्ट में पेश करे। जिसके बाद कोर्ट आगे का फैसला सुनाएगा। आपको बता दें कि मामला ओरिएण्टल बैंक ऑफ कॉमर्स का है। जहां 24 नवम्बर को विधायक दस हजार रुपए निकालने के लिए बैंक के बाहर लाइन में लगे थे। लेकिन बैंक प्रबंधन ने रुपए नहीं होने की बात कह दी थी।

बेटी की शादी में पहुंचे आमिर खान, परिवार ने नहीं लिया जोडा, तस्वीरें

खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
Web Title:get permission from the central government earlier fifteen days in the case - court
(News in Hindi खास खबर पर)
Advertisement
loading...
Advertisement
Khaskhabar Rajasthan Facebook Page:
Advertisement
स्थानीय ख़बरें
Advertisement

राजस्थान से

सर्वाधिक पढ़ी गई

प्रमुख खबरे

Advertisement

राष्ट्रीय खबर

Traffic

Advertisement

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

# जयपुर - राज्य मंत्रिमंडल का विस्तार हो गया है। राजभवन में शपथ ग्रहण समारोह में राज्यमंत्री अजय सिंह किलक व बाबूलाल वर्मा का प्रमोशन कर कैबिनेट मंत्री के रूप में शपथ दिलाई गई # जयपुर - विस्तार के तहत निम्बाहेड़ा से विधायक श्रीचंद कृपलानी और अलवर के बहरोड़ से विधायक डॉ. जसवंत यादव को कैबिनेट मंत्री के रूप में शपथ दिलाई गई # जयपुर - राज्यमंत्री के रूप में सीकर के खंडेला से विधायक बंशीधर बाजिया, जोधपुर के भोपालगढ़ से विधायक कमसा मेघवाल, बांसवाड़ा से विधायक धनसिंह रावत, डूंगरपुर के चौरासी से विधायक सुशील कटारा को राज्यमंत्री के रूप में शपथ दिलाई गई # उदयपुर। एमजी कॉलेज शपथ ग्रहण कार्यक्रम में हुआ विरोध। गृहमंत्री को पहुंचना था कार्यक्रम में लेकिन, नहीं पहुंचे। अपने माता-पिता की मौजूदगी में कार्यकारणी लेना चाहती थी शपथ लेकिन, कॉलेज प्रशासन ने नहीं दी थी अनुमति। कार्यक्रम के बाद विरोध करती छात्राएं निकलीं कॉलेज से बाहर। महापौर चंदर सिंह कोठारी की गाड़ी के आगे भी खड़ी हुईं छात्राएं। महापौर के समक्ष जताया विरोध। महापौर कोठारी पैदल निकल पड़े कॉलेज से। अध्यक्ष डिम्पल भावसार सहित पूरी कार्यकारिणी ने नहीं ली शपथ। अब तक 3 बार टल चुका है छात्रसंघ कार्यलय का उद्घाटन।