1 of 2

जोधपुर जेल में कैदियों की रसोई में लगी आग, चार कैदी झुलसे

fire in the kitchen of Jodhpur jail, four prisoners scorched - News in Hindi

जोधपुर। केंद्रीय कारागृह की रसोई में मंगलवार को गैस सिलेंडर में रिसाव होने से आग लग गई। हादसे में चार बंदी खाना बनाने की भट्टी से झुलस गए। झुलसे हुए कैदियों को जोधपुर के महात्मा गांधी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। एमजीएच की बर्न यूनिट में गंभीर रूप से झुलसे दो बंदियों का उपचार जारी है। दो अन्य बंदियों का उपचार जेल के ही चिकित्सालय में कराया गया है। सूत्रों के अनुसार सुबह करीब 6 बजे जेल की रसोई में चाय व नाश्ता बनाते समय गैस सिलेंडर में रिसाव हो गया। इससे आग लग गई। हादसे में बंदी मानाराम व कमल सहित चार जने झुलस गए हैं। सूचना पर जेल प्रहरी व जाप्ता अंदर पहुंचा। मानाराम व कमल को महात्मा गांधी अस्पताल की बर्न यूनिट में भर्ती करवाया गया है। आग से जेल की रसोई को भी नुकसान पहुंचा है और काफी सामान भी जला है।

कैदी भी बनाते हैं खाना
और पढ़े...

खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
Web Title:fire in the kitchen of Jodhpur jail, four prisoners scorched
(News in Hindi खास खबर पर)
Advertisement
loading...
Advertisement
Khaskhabar Rajasthan Facebook Page:
Advertisement
स्थानीय ख़बरें
Advertisement
Advertisement

राजस्थान से

सर्वाधिक पढ़ी गई

प्रमुख खबरे

Advertisement

राष्ट्रीय खबर

Traffic

Advertisement

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

# भरतपुर। सांसद बहादुर कोली सडक़ दुर्घटना में हुए घायल। भरतपुर से दिल्ली जा रहे थे सांसद कोली। यमुना एक्सप्रेस वे पर हुई दुर्घटना। स्कॉर्पियो गाड़ी के टूटे शीशे। लोकसभा में भाग लेने जा रहे थे सांसद कोली। # झुंझुनूं। 13 हैड कांस्टेबलों को पदोन्नति पर चिह्न वितरित, एएसआई बनने पर एसपी एस.के. गुप्ता ने लगाए स्टार, वार्षिक परेड व क्यूआरटी टीम के डेमो का भी किया निरीक्षण, संपर्क सभा में जवानों ने एसपी के समक्ष रखी समस्याएं, इस साल अब तक 52 हैड कांस्टेबल बन चुके हंै एएसआई। # भरतपुर। भरतपुर के भाजपा कार्यकर्ताओं को मिली निराशा। 7 बोर्ड-निगमों में अध्यक्ष व 51 सदस्यों की नियुक्ति में भरतपुर जिले से एक भी कार्यकर्ता का नाम नहीं। नगर सुधार न्यास के अध्यक्ष पद पर भी अभी तक नियुक्ति नहीं होना चर्चा का विषय। भाजपा में गुटबाजी माना जा रहा कारण। आपसी खीचतान व चहेतों को पद दिलाने की मच रही होड़। कार्यकर्ताओं में दिखने लगी निराशा।