1 of 1

नशे के रावण का पुुतला फूंका

Drugs burnt effigies of Ravana - News in Hindi

नवांशहर। पंजाब प्रदेश कांग्रेस के प्रधान कैप्टन अमरिंदर सिंह के दिशा-निर्देशों के तहत सोमवार को बलाचौर के मुख्य चौक में जिला प्रधान सतवीर सिंह पल्ली झिक्की और हलका इंचार्ज राजविंदर सिंह लक्की, चौधरी दर्शन लाल मंगूपुर, डॉ. राजदीप सिंह संधू, अशोक कुमार नानोवाल, संदीप भाटिया, जसविंदर कुमार, संतोष कटारिया की अध्यक्षता में `चिट्टे रावण` का पुतला फूंका गया। इस मोके पर कांग्रेस के सभी वक्ताओं ने कहा कि प्रदेश में जब से पंजाब में शिअद और बीजेपी गठबंधन सरकार बनी है, तब से प्रदेश में नशों के प्रचलन दिन प्रतिदिन बढ़ोतरी हुई है। चिट्टे नामक नशे ने प्रदेश की युवा पीढ़ी को इस कदर अपनी मकड़जाल में ले लिया है कि इससे अब तक पंजाब में हज़ारो मौतें हो चुकी हैं, परन्तु प्रदेश की सरकार नशों को रोकने में बिल्कुल विफल साबित हुई है। वक्ताओं ने आरोप लगाया कि नशों की बिक्री सिर्फ नेताओं की शह पर हो रही है और सरकार की शह पर जो नशा कर रहे हैं उन पर तो पर्चे दर्ज किए जा रहे हैं, परन्तु जो लोग नशे का कारोबार कर रहे हैं। सरकार उनको बचाने का कार्य कर रही हैं। हलके के कई गांवों का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि मेहतपुर, जैनपुर आदि कई गांवों के नौजवानों को इस चिट्टे रूपी नशे के कारण मौत हो चुकी है, परन्तु फिर भी इस नशे को रोकने के लिए नाकाम साबित हुई है। वहीं दूसरी और बीते दिनों लुधियाना में सांसद रवनीत सिंह बिट्टू जो कि सरकार की नशे पर काबू पाने की विफलता को लेकर विरोध प्रदर्शन कर रहे थे, तो उन पर भी सरकार की शह पर हमला कर दिया गया। इसलिए सरकार की नशों पर काबू करने की बजाए ऐसे हमले होना साफ नाकामी दिखाई दे रही है। इस अवसर पर संबोधित करते हुए जिला प्रधान सतवीर सिंह पल्ली झिक्की ने कहा कि यह चिट्टे का रावण जलाने का प्रोग्राम प्रदेश के सभी हलकों में पंजाब प्रदेश के दिशा निर्देश के तहत आने वाले समय में मनाया जाएगा, क्योंकि रावण का पुतला बुराई पर अच्छाई की जीत के तौर पर जलाया जाता है। इसलिए कांग्रेस पार्टी इस गठबंधन सरकार को नशों पर काबू पाने में विफलता के कारण चिट्टे के रावण के रूप में जलाया जा रहा है। इस दौरान चौधरी और प्रकाश खेपड़, कमलदीप लाली, मदन लाल हक्कला, रामा धीमान, नरेश कुमार, , विजय राणा, मलकीत धौल, राम चौधरी आदि के अलावा हलका बलाचौर कांग्रेस पार्टी के पदाधिकारी व वर्कर मौजूद थे। इस अवसर पर गठबंधन सरकार के खिलाफ जोरदार नारेबाजी की गई।संस्थाओं ने `चिट्टे रावण` शब्द पर जताया विरोध
उधर दूसरी और शहर के हिन्दू संस्थाओं के लोगों ने दबी जुवान में चिट्टे रावण का पुतला जलाने पर एतराज जताते हुए कहा कि रावण शब्द के साथ चिट्टे शब्द को जोड़ना उचित नहीं है। अगर किसी राजनीतिक पार्टी ने चिट्टे का विरोध करना भी है, तो इस शब्द के साथ सरकार या कोई और शब्द जोड़ना चाहिए, क्योंकि रावण शब्द के साथ चिट्टे का प्रयोग करना हिन्दू धर्म की मर्यादा के विपरीत है।

खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
Web Title:Drugs burnt effigies of Ravana
(News in Hindi खास खबर पर)
loading...
Advertisement
Khaskhabar Punjab Facebook Page:
स्थानीय ख़बरें
Advertisement

पंजाब से

सर्वाधिक पढ़ी गई

प्रमुख खबरे

Advertisement

राष्ट्रीय खबर

Traffic

Advertisement

जीवन मंत्र

Daily Horoscope