• Aapki Saheli
  • Astro Sathi
  • Business Khaskhabar
  • ifairer
  • iautoindia
  • Results
Advertisement
Advertisement
1 of 1

कलक्टर से वार्ता विफल, बुधवार को करेंगे कलेक्ट्रेट पर धरना-प्रदर्शन

Collector of talk - India News

हनुमानगढ़। 14 माह से बंद पड़ी स्पिनिंग मिल को चालू करने या बेरोजगार हुए मिल श्रमिकों का समायोजन करने की मांग को लेकर मिल बचाओ संयुक्त संघर्ष समिति द्वारा पूर्व घोषणानुसार बुधवार, 30 नवम्बर को जिला कलेक्ट्रेट पर धरना-प्रदर्शन किया जाएगा। धरने में समिति के बैनर तले विभिन्न राजनैतिक पार्टियों के लोग व मजदूर शामिल होंगे। धरनास्थल पर ही आन्दोलन की आगामी रूपरेखा तय की जाएगी। मंगलवार को जिला कलक्टर प्रकाश राजपुरोहित ने समिति सदस्यों को वार्ता के लिए बुलाया लेकिन कलक्टर द्वारा मजदूरों के समायोजन संबंधी सहकारिता मंत्री अजय सिंह किलक द्वारा की गई घोषणा की एक फोटो प्रतिलिपि दिखाए जाने पर समिति सदस्य संतुष्ट नहीं हुए तथा वार्ता समाप्त कर लौट आए।
जिला कलक्टर प्रकाश राजपुरोहित ने समिति सदस्यों को मजदूरों के समायोजन का भरोसा दिलाया लेकिन समिति सदस्य नहीं माने। उनका कहना था कि राज्य सरकार आन्दोलन की शुरूआत से ही आन्दोलन को भटकाने की कोशिश करती आ रही है, लेकिन इस बारे वे सरकार के बहकावे में नहीं आने वाले। वार्ता विफल रहने के बाद जंक्शन स्थित सहकारी स्पिनिंग मिल के समक्ष मजदूरों की गेट मीटिंग हुई।
जिसमें कांग्रेस नेता सौरभ राठौड़, माकपा के कामरेड रामेश्वर वर्मा, इशाक खान, भागीरथ डूडी, निरंजन नायक, आम आदमी पार्टी के एडवोकेट शंकर सोनी, महावीर सिंह, मूलचन्द चौधरी, बहादुर सिंह चौहान आदि ने विचार रखे। कांग्रेस नेता सौरभ राठौड़ ने अपने संबोधन में कहा कि मिल मुद्दे पर संघर्ष समिति के सदस्यों व मिल मजदूरों को मुखर होता देख सरकार द्वारा झूठी घोषणा कर आंदोलन को दबाने का प्रयास किया जा रहा है जिसे किसी भी सूरत में सफल नहीं होने दिया जाएगा और 30 नवम्बर को पूर्व घोषित कार्यक्रम के अनुसार इस संवेदनहीन सरकार को जगाने व सरकार से अपना हक लेने के लिये जिला कलेक्ट्रेट पर प्रदेश की भाजपा सरकार व हनुमानगढ़ जिला पशासन के खिलाफ विशाल सर्वदलीय धरना-प्रदर्शन किया जाएगा। माकपा के कामरेड रामेश्वर वर्मा ने बताया कि सहकारिता मंत्री द्वारा की गई घोषणा के संबध में अभी तक मिल प्रबंधन, संघर्ष समिति, प्रशासन के पास कोई आधिकारिक पत्र नहीं आया है तो हम इस घोषणा पर विश्वास कैसे कर सकते हैं। और इस घोषणा में इस आदेश को पूरा करने की न ही कोई समय सीमा बताई गयी है जिससे साफ पता चलता है कि यह निर्णय सरकार द्वारा आंदोलन को दबाने के लिए जल्दबाजी में लिया गया है। ज्ञातव्य हो कि राज्य सरकार ने गत दिनों राज्य की विभिन्न संस्थाओं एवं विभागों में समायोजन करने के संबंध में घोषणा की गई थी। इस घोषणा में कहा गया कि सरकार का यह निर्णय स्पिनफैड के कर्मचारियों एवं उनके परिवार को ध्यान में रखकर लिया गया है ताकि उनका रोजगार यथावत रहे एवं जीवन यापन में किसी प्रकार की कठिनाई नहीं हो। स्पिनफैड की सभी इकाईयों गुलाबपुरा, गंगापुर एवं हनुमानगढ़ में कार्यरत श्रमिकों एवं स्टाफ कर्मचारियों को उनकी योग्यता अनुसार राज्य सरकार के विभिन्न विभागों में विपरित प्रतिनियुक्ति की जाएगी। इसके लिए वित विभाग को पृथक से प्रस्ताव भेजे जाएंगे। योग्यताधारी श्रमिकों एवं स्टाफ कर्मचारियों की अन्य सहकारी संस्थाओं/निगमों/पंचायतीराज संस्थाओं/स्वायत्त शासी संस्थाओं में रिक्त पदों पर प्रथमत: प्रतिनियुक्ति की इनका समायोजन करने की घोषणा की गई थी।


खास खबर Exclusive: कई गलियों में बार बार बिका किशोर, पढ़ कांप जाएगी रूह

यह भी पढ़े

Web Title-Collector of talk
खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
(News in Hindi खास खबर पर)
Advertisement
Khaskhabar Rajasthan Facebook Page:
Advertisement
Advertisement
स्थानीय ख़बरें

राजस्थान से

प्रमुख खबरे

आपका राज्य
Advertisement

Traffic

Advertisement

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

Advertisement
Copyright © 2017 Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved