1 of 3

सीएम का ड्रीम प्रोजेक्ट क्लीन यूपी-ग्रीन यूपी बस्ती में चढ़ा अधिकारियों की भेंट

बस्ती जिले में मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के ड्रीम प्रोजेक्ट क्लीन यूपी-ग्रीन यूपी को जनपद के अधिकारी ही पलीता लगा रहे हैं। जनपद में अद्यान विभाग की 5 राजकीय नर्सरियों में 1.5 लाख फलदार पौधे डम्प पड़े हैं। जिनको ग्रामीण क्षेत्रों में लगाया जाना था। अगर 1.5 लाख पौधे सूख गए तो 40 से 45 लाख के राजस्व का सरकार को चूना लगेगा। जिला उद्यान अधिकारी लाल बहादुर मौर्य ने बताया की प्रारम्भ में जब पौधे उठाए जाने थे तो प्रमुख सचिव के यहां से पत्र आया था कि राजकीय नर्सरियों में जो पौध हैं उस की उठान कराने के लिए जिलाधिकारी स्तर पर समस्त बीडियो और जिला स्तर के अधिकारियों को पत्र लिखवाएं। जिलाधिकारी स्तर से सभी अधिकारियों को पत्र तो लिखवाया गया, कठोर चेतावनी भी जारी की गई बावजूद इसके पौधों को नहीं खरीदा गया, जिसकी वजह से आज 1.5 लाख फलदार पौधे बरबादी के कगार पर खड़े हैं। वहीं बस्ती सीडीओ अंजनी सिंह का कहना है की 1.26 लाख वृक्ष लगाने का लक्ष्य निर्धारित किया गया था।

यह भी पढ़े

खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
Web Title:Clean UP Green UP were flop due to officials negligent
(News in Hindi खास खबर पर)
Advertisement
Khaskhabar UP Facebook Page:
Advertisement
स्थानीय ख़बरें

उत्तर प्रदेश से

Advertisement

प्रमुख खबरे

आपका राज्य
Advertisement

राष्ट्रीय खबर

Traffic

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

# मिर्जापुर- चेकिंग के दौरान पुलिस ने कार से जब्त किए 18 लाख रुपए # चुनाव आयोग ने रोकी समाजवादी स्मार्टफोन योजना के पंजीकरण की प्रक्रिया # फैजाबाद- ट्रक हादसा: मृतकों के परिजनों को 30-30 हजार की आर्थिक सहायता, चौकी इंचार्ज सस्पेंड # हाथरस- भाजपा प्रत्याशी प्रीती चौधरी पर आचार सहिंता के उल्लंघन का मामला दर्ज # मिर्जापुर- लापरवाही के चलते प्रभावित हो सकता है शिक्षा बजट, महज 400 स्कूलों ने जमा किया डेटा # भाजपा ने घोषित किए आगरा में सभी 9 विधानसभाओं के प्रत्याशी # वाराणसी- काशी हिन्दू विवि में भव्य दीक्षान्त समारोह का हुआ आयोजन # हाथरस- चेकिंग के दौरान पुलिस ने ट्रक से जब्त की 16.86 लाख की नकदी, पूछताछ जारी # रामपुर- आजम खान ने किया चुनाव आयोग के फैसले का स्वागत, बेटे ने बांटी मिठाइयां # अखिलेश यादव आगरा से करेंगे चुनावी शंखनाद, तैयारियां जोरों पर # चुनाव आयोग के फैसले के बाद मुलायम-शिवपाल के पास बचे है अब ये विकल्प