1 of 2

नकदी के लिए कतारों में खडे रहे 3 की मौत

बांदा। यूपी के हिस्से वाले बुंदेलखंड के बांदा और हमीरपुर जिलों में बैंकों से नकदी न मिलने की वजह से तीन लोगों की मौत हो गई है। बैंकों में अब भी लंबी कतारें जारी हैं। बुंदेलखंड के बांदा जिले की नसेनी गांव की महिला अनीसा खातून (50) पिछले डेढ साल से क्षय रोग से पीडित थी, और उसका नौगांव-छतरपुर में इलाज चल रहा था।

उसके बेटे शाहरूख (32) ने बुधवार को कहा, मां के खाते में 80 हजार रूपये जमा हैं। इलाज के लिए वह रोजाना नरैनी की इलाहाबाद बैंक जाती रही है, लेकिन उसकी बारी आने तक बैंक में नकदी खत्म हो जाती थी। शाहरूख ने कहा, सोमवार को मां बैंक की कतार में करीब दो घंटे लगी रही, लेकिन नकदी नहीं मिली। घर वापस आने पर तबीयत बिगड गई और मंगलवार तडके उसकी मौत हो गई। शाहरूख ने कहा, हम इस मामले पर गुरूवार को अन्य ग्रामीणों के साथ जिला कलेक्टर से मुलाकात करेंगे। नरैनी स्थित बैक शाखा के प्रबंधक, प्रवीण कुमार (40) ने कहा कि उन्हें इस बात की कोई जानकारी नहीं दी गई। महिला के परिजन बताते तो इलाज के लिए नकदी जरूर दी जाती।


खास खबर Exclusive: कई गलियों में बार बार बिका किशोर, पढ़ कांप जाएगी रूह
और पढ़े...

खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
Web Title:cash crunch: three persons die in bundelkhand after standing for hours in queues outside banks
(News in Hindi खास खबर पर)
loading...
Advertisement
Khaskhabar UP Facebook Page:
Advertisement
स्थानीय ख़बरें
Advertisement

उत्तर प्रदेश से

सर्वाधिक पढ़ी गई

प्रमुख खबरे

Advertisement

राष्ट्रीय खबर

Traffic

Advertisement

जीवन मंत्र

Daily Horoscope