1 of 1

शातिर चौरों ने दिया पांच वारदातों को अंजाम, पुलिस व्यवस्था पर उठे सवाल

Burglars have five vicious acts committed, a question on police - News in Hindi

अजमेर। एक ही दिन में एक के बाद एक पुष्कर में अभी तक लगातार पांच वारदाते होने से स्थानीय लोगो में दहशत का माहौल । शातिर चोर गैंग ने सोमवार को पुष्कर में कई गाडिय़ों के कांच तोड़ कर पर्स उडा ले गए । कपालेश्वर तिराये पर दिल्ली से वैगनार गाड़ी में आये यात्री का अज्ञात चोर ने कांच तोडक़र किया पर्स ।यात्री ने बताया कि पर्स में जरूरतमंद कागजात सहित कुछ सामान रखा था इससे पहले चोरो ने मारुती वेन से पर्स पर किया था शहर के एक इलाके से आज ही के दिन मोटरसाइकल लेकर चोर निकल लिए इससे पहले एक चोर महिला का पर्स छीन कर फरार हो गया था । दोपहर बाद गाडिय़ों के शीशे तोडक़र चोरी हुए बेग यज्ञ घाट के बाहर बने शौचालय में मिले।स्थानीय लोगो ने बताया कि शौचालय के अंदर तीन महिलाओं के पर्स पड़े थे जो पुलिस के हवाले कर दिए अज्ञात चोरों ने बेग चोरी करने के बाद उसमें से रूपये निकालकर शौचालय में रखकर रफूचक्कर हो गए। पुलिस मामले की तप्तिश में लगी है ।

खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
Web Title:Burglars have five vicious acts committed, a question on police
(News in Hindi खास खबर पर)
Advertisement
loading...
Advertisement
Khaskhabar Rajasthan Facebook Page:
Advertisement
स्थानीय ख़बरें
Advertisement
Advertisement

राजस्थान से

सर्वाधिक पढ़ी गई

प्रमुख खबरे

Advertisement

राष्ट्रीय खबर

Traffic

Advertisement

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

# भरतपुर। सांसद बहादुर कोली सडक़ दुर्घटना में हुए घायल। भरतपुर से दिल्ली जा रहे थे सांसद कोली। यमुना एक्सप्रेस वे पर हुई दुर्घटना। स्कॉर्पियो गाड़ी के टूटे शीशे। लोकसभा में भाग लेने जा रहे थे सांसद कोली। # झुंझुनूं। 13 हैड कांस्टेबलों को पदोन्नति पर चिह्न वितरित, एएसआई बनने पर एसपी एस.के. गुप्ता ने लगाए स्टार, वार्षिक परेड व क्यूआरटी टीम के डेमो का भी किया निरीक्षण, संपर्क सभा में जवानों ने एसपी के समक्ष रखी समस्याएं, इस साल अब तक 52 हैड कांस्टेबल बन चुके हंै एएसआई। # भरतपुर। भरतपुर के भाजपा कार्यकर्ताओं को मिली निराशा। 7 बोर्ड-निगमों में अध्यक्ष व 51 सदस्यों की नियुक्ति में भरतपुर जिले से एक भी कार्यकर्ता का नाम नहीं। नगर सुधार न्यास के अध्यक्ष पद पर भी अभी तक नियुक्ति नहीं होना चर्चा का विषय। भाजपा में गुटबाजी माना जा रहा कारण। आपसी खीचतान व चहेतों को पद दिलाने की मच रही होड़। कार्यकर्ताओं में दिखने लगी निराशा।