1 of 3

दो दिन के बाद भी एटीएम शांत, लोग बेहाल

झांसी। केन्द्र सरकार द्वारा 500 एवं 1000 के नोट बंद किये जाने के पश्चात 26 एवं 27 को बैंक बंदी होने की वजह से हलाकान लोग एटीएम की शरण में पहुंचकर उनसे नोट उगलने की प्रार्थना की। परन्तु एटीएम में नोट नहीं होने की वजह से एटीएम शांत रहे। जिससे लोगों को घोर परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। वहीं ग्रहणियों के पास भी बचायें गये रूपये खत्म होने से अधिकांश परिवारों में नोंकझोंक का माहौल प्रदर्शित होता रहा है। किसी-किसी घरों में विमुद्रीकरण का व्यापक असर होने से सब्जियां भी नहीं खरीदी जा सकी।प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा गत 8 नवम्बर को सांयकाल 8 बजे अचानक नोटों कार विमुद्रीकरण कर 500 एवं 1000 के पुराने नोटो को चलन से बाहर किये जाने का ऐलान किये जाने से लोगों में हड़कम्प मच गया था। जिसकी वजह से सम्पूर्ण देश की बैंको के सामने लम्बी-लम्बी कतारे लगनी शुरू हो गई थी। इन लाइनों में नोट बदलने से मनाही किये जाने से कमी आई है।

अब एप आपको बताएगा कहां है शौचालय
और पढ़े...

खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
Web Title:ATM calm after two days, people suffering
(News in Hindi खास खबर पर)
loading...
Advertisement
Khaskhabar UP Facebook Page:
Advertisement
स्थानीय ख़बरें
Advertisement

उत्तर प्रदेश से

सर्वाधिक पढ़ी गई

प्रमुख खबरे

Advertisement

राष्ट्रीय खबर

Traffic

Advertisement

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

# उत्तर प्रदेश सरकार ने12 दिसम्बर को ईद-ए-मिलादुन नबी (बारावफात) का सार्वजनिक अवकाश घोषित किया # इलाहाबाद : पीसीएस प्री 2016 का परीक्षा परिणाम हाईकोर्ट ने रद्दकिया # पढ़ाई के लिए कितनी लगेगी नई फीस, वेबसाइट के जरिए लें जानकारी # खासखबर EXCLUSIVE: यूपी चुनाव कब होंगे? # अयोध्या : साकेत महाविद्यालय छात्र संघ चुनाव में एबीवीपी की एकता सिंह अध्यक्ष,शुभेंद्र प्रताप सिंह उपाध्यक्ष व रजनीश वर्मा महामंत्री निर्वाचित # इलाहाबाद : चुनाव आयोग ने यूपी बोर्ड परीक्षाओं की तारीाखों पर लगायी रोक, आयोग के अगले आदेश तक रोक रहेगी जारी # हापुड़ : NH-24 पर कोहरे के चलते ट्रक और कार की भिड़ंत में तीन लोगों की मौत, तीन घायल # राज्य निर्वाचन ने बनाया एप्लिकेशन, घर बैठे ले सकते हैं पोलिंग बूथ की जानकारी # लखनऊ : महिलाओं को पैर की जूती समझने वाले लोग तीन तलाक के पक्ष में- साध्वी निरंजन