• Aapki Saheli
  • Astro Sathi
  • Business Khaskhabar
  • ifairer
  • iautoindia
  • Results
1 of 3

पुराने नोट खपाने को दी एडवांस सैलरी, अब आयकर के निशाने पर

जयपुर। देश में नोटबंदी के बाद 500- 1000 रुपए के नोट खपाने के लिए नकद में एडवांस सैलरी दे चुकी फर्म व कंपनियों को आयकर विभाग ने राडार पर ले लिया है। इस तरह से बड़े स्तर पर भुगतान करने वाली कंपनियों से विभाग नोटिस से छापे तक की कार्रवाई करेगा। ऐसी गतिविधियों में कौन शामिल हैं, फिलहाल इसकी जानकारी व सबूत जुटाए जा रहे हैं। सबूत मिलने पर कार्रवाई होगी। प्रदेशभर में कई फर्मों, कंपनियों, ट्रस्टों और शिक्षण संस्थानों ने 8 नवंबर के बाद एडवांस में तनख्वाह बांट दी है। इस संबंध में आयकर विभाग को प्रदेशभर से सूचनाएं व शिकायतें मिली हैं। इसके अलावा कुछ -एक ट्रस्टों को चंदे के नाम पर दी गई राशि भी आयकर विभाग में जांच का बिंदु बनी हुई है। ऐसा इसलिए भी कि कुछ ट्रस्ट आयकर छूट और कालेधन को सफेद कराने में मदद कर रहे हैं। ये ट्रस्ट दान लेकर और दान की बड़ी रकम वापस कर आयकर छूट का फायदा दिलाते हैं। 8 नवंबर के बाद कुछ ट्रस्टों द्वारा 500- 1000 रुपए के नोट कैश में लिए जाने की सूचना व शिकायत इनकम टैक्स तक पहुंच चुकी है।
पूरा लोन चुकाने वालों पर भी नजर

खास खबर Exclusive: कई गलियों में बार बार बिका किशोर, पढ़ कांप जाएगी रूह

Web Title-Advance Salary to absorb the old notes, now the target of income tax department
खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
(News in Hindi खास खबर पर)
Advertisement
Khaskhabar Rajasthan Facebook Page:
Advertisement
Advertisement
स्थानीय ख़बरें

राजस्थान से

प्रमुख खबरे

आपका राज्य

Traffic

Advertisement

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

Advertisement
Copyright © 2017 Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved