1 of 2

नोटबंदी के 50वें दिन भी नकदी संकट बरकरार

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नोटबंदी के फैसले को 50 दिन की अवधि पूरी होने के आखिरी दिन भी देशभर में लोगों को नकदी संकट की समस्या से जूझना पड़ रहा है। कई एटीएम बंद हैं, जबकि जिन एटीएम मशीनों में पैसा है उनके सामने लोगों की लंबी कतारें लगी हैं। हालांकि, ये कतारें नोटबंदी के शुरुआती दिनों की तुलना में छोटी हैं। लोगों की शिकायत है कि कई बैंक प्रति व्यक्ति 4,000 रुपये से ज्यााद नहीं दे रहे हैं जबकि आधिकारिक रूप से सप्ताह में यह सीमा 24,000 रुपये है।

इस पर बैंकों का कहना है कि उनके पास पर्याप्त नकदी नहीं है। मुंबई के एक कार्यकारी अधिकारी सुधीर मेहता का कहना है, एटीएम में मेरा अनुभव खीझ वाला रहा है। मुझे कम से कम एक से दो घंटे कतार में लगना पड़ा। मैं आज बैंक गया और प्रबंधक से बहस के बावजूद सिर्फ 4,000 रुपये से निकाल सका।

नई दिल्ली के लाजपत नगर में इलेक्ट्रॉनिक सामानों की दुकान चलाने वाले संजीव सेठी ने बैंक में जाकर गुहार लगाई कि उन्हें अपने कर्मचारियों को पगार देने के लिए 24,000 रुपये की जरूरत है। मोदी ने आठ नवंबर को देश के नाम संबोधन में 500 और 1,000 रुपये के नोट अवैध घोषित कर दिए थे।


[@ Exclusive- राजनीति के सैलाब में बह गई देश के दो कद्दावर परिवारों की दोस्ती]

यह भी पढ़े

खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
Web Title:50th day of demonetization, cash crunch continues
(News in Hindi खास खबर पर)
Advertisement
Khaskhabar.com Facebook Page:
Advertisement

प्रमुख खबरे

आपका राज्य
Advertisement

राष्ट्रीय खबर

Traffic

जीवन मंत्र

Daily Horoscope