1 of 2

मलकोसनी में ढाई सौ भेड़ों की मौत, कारण फिलहाल अस्पष्ट

जोधपुर। मालकोसनी गांव में ढाई सौ से अधिक भेड़ों की मौत पर पशुपालन विभाग मौन है। अभी तक इस बात का पता ही नहीं चला है कि आखिर इतनी बड़ी तादाद में भेड़ों की मौत कैसे हो गई। अभी तक क्षेत्र के कई गांवों में अज्ञात बीमारी से भेड़ों की मौतों का सिलसिला जारी है। पशुपालन विभाग के चिकित्सकों ने मरने वाली भेड़ों का पोस्टमार्टम कर विसरा जांच के लिए भेजा लेकिन, चिकित्सक यह नहीं बता पा रहे हंै कि भेड़ों की मृत्यु किस बीमारी से हो रही है। इस गांव के भेड़पालक नाथूसिंह की मानें तो उनके गांव में लिवरब्ल्यू नामक बीमारी से चार सौ से अधिक भेड़े मर चुकी हैं। अचानक भेड़ों की मौतों के बाद मालकोसनी के पशु चिकित्सालय प्रभारी पंकज मोहन त्रिपोठी ने जोधपुर से वरिष्ठ चिकित्सकों की टीम को बुलाया, पोस्टमार्टम भी कराया, विसरा लैब में भी भेजा लेकिन भेड़ों के मरने का कारण स्पष्ट नहीं हुआ।

कहां कितनी हुई मौतें

यह भी पढ़े

खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
Web Title:250 sheeps died in jodhpur, Cause unclear
(News in Hindi खास खबर पर)
Advertisement
Khaskhabar Rajasthan Facebook Page:
Advertisement
स्थानीय ख़बरें
Advertisement
Advertisement

राजस्थान से

Advertisement

प्रमुख खबरे

आपका राज्य
Advertisement

राष्ट्रीय खबर

Traffic

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

# जयपुर। सीएम वसुंधरा राजे और चीनी राजदूत के बीच शिष्टाचार मुलाकात। राजस्थान और चीन में हो रहे सहयोग पर चर्चा। # जयपुर। जयपुर में पानी छीजत के लिए जापानी सहयोग की योजना लाई रंग। अब सभी संभागों के लिए बनाई जाएगी योजना। # करौली। सांसद डाॅ मनोज राजोरिया दूरसंचार सलाहकार समिति के स्थानीय अध्यक्ष नियुक्त। बीएसएनएल के प्रति भरोसा बढ़ाना रहेगा काम। # धौलपुर। डकैत जगन गुर्जर और उसके गिरोह के आठ सदस्यो को 10 वर्ष की सजा। बाड़ी एडीजे कोर्ट ने सुनाया फैसला। 12 जनवरी 2008 में किया था डकैतों ने पुलिस पार्टी पर हमला। # बूंदी। रोजगार कौशल उद्यमिता शिविर में उमड़े युवा, कोटा विश्वविद्यालय के उपकुलपति पी.के. दशोरा रहे मुख्य वक्ता, 25 से ज्यादा प्लेसमेंट कंपनियों व संस्थाओं ने लगाए काउण्टर # धौलपुर। गुटखा लाने से मना किया तो कर दी हत्या, मामला दर्ज, बाड़ी के हथियापोर मोहल्ले की वारदात, सात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज