• Aapki Saheli
  • Astro Sathi
  • Business Khaskhabar
  • ifairer
  • iautoindia
  • Results
1 of 2

फ्जयून डांस अकादमी नेरचौक के कलाकारों ने बांधा समा

बिलासपुर। राज्यस्तरीय नलवाडी मेले की पहली सांस्कृतिक संध्या में जहां स्थानीय कलाकारों ने अपने गीतों के द्वारा समां बांधा, वहीं पर लोक गायक ठाकुर दास राठी दर्शकों को इतना अधिक प्रभावित नहीं कर पाए। मंडी से आए फ्जयून डांस अकादमी नेरचौक के कलाकारों ने इतना अधिक बेहतर नृत्य प्रस्तुत किया कि सभी दर्शक दांतों तले उंगली दबाने को मजबूर हो गए। युवा जादूगर सम्राट बादल ने भी दर्शकों पर अपनी कलाकारी की छाप छोड़ी। सीपीएस राजेश धर्माणी ने नलवाड़ी मेले की पहली सांस्कृतिक संध्या में मुख्य अतिथि के रूप में शिरकत की। उन्होंने दीप प्रज्वलित कर संध्या का शुभारंभ किया। उनके साथ उनकी धर्मपत्नी मोनिका धर्माणी भी उपस्थित रहीं।

ठाकुर दास राठी ने गिनीज बुक में दर्ज प्राइड ऑफ कुल्लू का थीम सांग बेटी है अनमोल के साथ अपने कार्यक्रम का आगाज किया। इसके बाद उन्होंने हवा लागी चंडीगढ़ा री हो, प्रोमिला तेरे गांव लागे मेले हिट गीत पेश किए लेकिन बिलासपुर में राठी वह जादू पेश नहीं कर पाए जिसके लिए वह जाने जाते हैं। उन्होंने भाई री शाली, दे दे मोबाइल नंबर, नीली नीली अखिए काजलू लाए गीत पेश किए तो पंडाल में कुछ सीटियां जरुर बंजी। उन्होंने अपनी नई नाटी भी सुनाई जिसके बोल थे कदी बोलदी नो-नो कदी बोलदी यस। इसके साथ श्रीदेविए कोखे चाली तू, झुमके वाली मेरी झुमके वाली, नीरू चाली घूमदी, शालू रे क्वाटरा, हो सुमित्रा मिलदी ऐजे, ऐजे लारजी मोड़े हो नाटियां पेश की।

अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

Web Title-Artists of Fayyun Dance Academy Nerchouk create a great atmosphere
खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
(News in Hindi खास खबर पर)
Advertisement
Khaskhabar.com Facebook Page:
Advertisement
स्थानीय ख़बरें

हिमाचल प्रदेश से

प्रमुख खबरे

आपका राज्य

Traffic

Advertisement

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

Advertisement
Copyright © 2017 Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved