• Aapki Saheli
  • Astro Sathi
  • Business Khaskhabar
  • ifairer
  • iautoindia
  • Results
1 of 2

मुलायम द्वारा स्थापित UP के सम्मान ‘यश भारती’ की जांच करवाएंगे योगी

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने फैसला लिया है कि वह राज्य के सबसे बड़े सम्मान ‘यश भारती’ की जांच करवाएंगे। यह अवॉर्ड मुलायम सिंह यादव ने 1994 में शुरू किया था। यह अवार्ड राज्य से ताल्लुक रखने वाले ऐसे लोगों को दिया जाता है जिन्होंने ने कला, संस्कृति, साहित्य या खेलकूद के क्षेत्र में देश के लिए नाम कमाया हो। इस पुरस्कार में 11 लाख रुपये के अलावा ताउम्र 50 हजार रुपये की पेंशन भी मिलती है। यह पुरस्कार अमिताभ बच्चन, हरिवंश राय बच्चन, अभिषेक बच्चन, जया बच्चन, ऐश्वर्या राय बच्चन, शुभा मुद्गल, रेखा भारद्वाज, रीता गांगुली, कैलाश खेर, अरुणिमा सिन्हा, नवाज़ुद्दीन सिद्द़ीकी़, नसीरूद्दीन शाह, रवींद्र जैन, भुवनेश्वर कुमार जैसी हस्तियों को मिल चुका है। मायवाती ने अपनी सरकार आने पर यह पुरस्कार बंद कर दिया था, लेकिन 2012 में अखिलेश यादव सरकार ने इसे दोबारा शुरू करवा दिया।
इस बार इस पुरस्कार को लेकर तमाम सवाल उठे और इल्जाम लगे कि अखिलेश यादव ने तमाम गरीब लोगों को आर्थिक मदद करने के लिए ‘यश भारती’ पुरस्कार दे दिया। हद तो तब हो गयी जब मुख्यमंत्री के नए दफ्तर लोक भवन के सभागार में अखिलेश यादव ने पुरस्कार समारोह का संचालन करने वाली महिला को भी खुश होकर वहीं मंच से ‘यश भारती’ पुरस्कार देने का ऐलान कर दिया। यही नहीं, समाजवादी पार्टी दफ्तर में काम करने वाले उन दो कर्मचारियों को पत्रकारिता की श्रेणी में यूपी का सबसे बड़ा पुरस्कार दे दिया गया, जिनका पत्रकारिता से कोई दूर दूर का भी रिश्ता नहीं है।

अपने राज्य - शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

यह भी पढ़े

Web Title-CM Yogi to investigate into UP,s biggest award Yash Bharati started by Mulayam Yadav
खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
(News in Hindi खास खबर पर)
Advertisement
Khaskhabar UP Facebook Page:
Advertisement
Advertisement
स्थानीय ख़बरें

उत्तर प्रदेश से

प्रमुख खबरे

आपका राज्य

Traffic

Advertisement

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

Advertisement
Copyright © 2017 Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved