• Aapki Saheli
  • Astro Sathi
  • Business Khaskhabar
  • ifairer
  • iautoindia
  • Results
1 of 2

LIVE:बच्चों की मौत पर घमासान, गोरखपुर घटना पर PM की नजर...

गोरखपुर। गोरखपुर के बाबा राघव दास मेडिकल कॉलेज में 36 बच्चों की दर्दनाक मौत पर घमासान मचा हुआ है। विपक्षी पार्टियां लगातार केंद्र और यूपी सरकार पर हमला बोल रही है। वहीं, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गोरखपुर घटना पर नजर बनाए हुए हैं। मोदी केंद्र और राज्य सरकार के अधिकारियों से सपंर्क में है और पल-पल की घटना पर नजरें बनाए हुए है। यूपी के स्वास्थ्य मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह ने शनिवार को घटना की जानकारी देते हुए बताया कि कुछ घंटों के लिए ऑक्सीजन की सप्लाई जरूर बाधित हुई थी, लेकिन मौत का कारण गैस सप्लाई में बाधा नहीं है। उन्होंने साथ ही कहा कि मामले में लापरवाही बरतने के कारण कॉलेज के प्रिंसिपल को निलंबित कर दिया गया है। मंत्री ने कहा कि दोषियों के खिलाफ सरकार कड़ी कार्रवाई करेगी।

जानिय, हर अपडेट...


-निलंबित होने के कुछ देर बाद प्रिंसिपल बोले, मैं पहले ही कॉलेज में बच्चों की मौत जिम्मेदारी लेते हुए अपना इस्तीफा दे चुका हूं।

-समाजवादी पार्टी ने गोरखपुर के बाबा राघवदास मेडिकल कॉलेज अस्पताल में ऑक्सीजन की कमी से 33 बच्चों की मौत मामले की जांच के लिए विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष रामगोविंद चौधरी के नेतृत्व में छह सदस्यीय जांच दल गोरखपुर भेजा है। जांच कमेटी घटना की जांच कर 13 अगस्त तक पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष को अपनी जांच रिपोर्ट सौंपेगा।

-यूपी के स्वास्थ्य मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह ने दावा किया कि बच्चों की मौत गैस की वजह से नहीं हुई। हालांकि, उन्होंने माना कि दो बार गैस सप्लाई में रुकावट आई थी।

-लापरवाही के आरोप में सरकार ने बीआरडी कॉलेज के प्रिंसिपल को सस्पेंड कर दिया है।

-पीएम मोदी का ट्वीट: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर कहा कि वह गोरखपुर की घटना पर नजर बनाए हुए हैं। मोदी ने ट्वीट किया, वह केंद्र और यूपी सरकार के अधिकारियों से लगातार संपर्क में हैं। केंद्रीय स्वास्थ्य राज्यमंत्री अनुप्रिया पटेल और केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव गोरखपुर में मामले पर नजर रखेंगे।

-कांग्रेस के वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद और यूपी कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष राज बब्बर के नेतृत्व में कांग्रेस के एक प्रतिनिधिमंडल ने गोरखपुर में बाबा राघव दास मेडिकल कॉलेज हॉस्पिटल का दौरा किया और पिछले पांच दिनों में एंसेफलाइटिस और कथित तौर पर ऑक्सीजन की कमी के कारण मरने वाले 63 बच्चों के परिजनों से मुलाकात की।

-नेताओं ने अस्पताल के बाल चिकित्सा वॉर्ड का भी दौरा किया।

-योगी सरकार ने सफाई देते हुए बताया कि बच्चों की मौतों का कारण अलग-अलग है।

-अखिलेश यादव बोले, यह प्रशासन अपना काम छोडक़र केवल समाजवादी लोगों पर अन्याय करने में लगा है, मेडिकल कॉलेज की घटना बहुत दुखद है।

-कांग्रेसी नेता गुलाम नबी आजाद बोले, स्वास्थ्य मंत्री और चिकित्सा शिक्षा मंत्री दोनों को इस्तीफा देना चाहिए। मुख्यमंत्री अपने कर्तव्य से भाग नहीं सकते।

-गोरखपुर के बीआरडी मेडिकल कॉलेज में ऑक्सिजन की आपूर्ति करने वाली पुष्पा सेल्स प्राइवेट लिमिटेड के मालिक मनीष भंडारी के रिश्तेदारों के यहां पुलिस की छापेमारी।

-कांग्रेस नेताओं ने गोरखपुर मेडिकल कॉलेज में जाकर पीडि़त परिजनों से मुलाकात की।

- स्वास्थ्य मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह का बयान, अगस्त में हर साल बच्चे मरते हैं। हम बच्चों की मौतों को कम नहीं आंक रहे हैं। इस कॉलेज में मरीज लास्ट स्टेज में आते हैं जिस कारण भी मौत का आंकड़ा ज्यादा है। उन्होंने ने सफाई देते हुए कहा कि अगर पुराने आंकड़ें देखें तो इस अस्पताल में औसतन 17-18 बच्चों की मौतें होती हैं।

ये भी पढ़ें - अपने राज्य - शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

यह भी पढ़े

Web Title-Gorakhpur hospital tragedy LIVE:PM Modi expressed sadness
खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
(News in Hindi खास खबर पर)
Tags: gorakhpur hospital tragedy, prime minister, narendra modi, uttar pradesh chief minister, yogi adityanath, mayawati, former uttar pradesh chief minister, samajwadi party chief, akhlesh yadav, congress leaders, ghulam nabi azad, raj babbar\r\n, hindi news, news in hindi, breaking news in hindi, real time news, gorakhpur news, gorakhpur news in hindi, real time gorakhpur city news, real time news, gorakhpur news khas khabar, gorakhpur news in hindi
Khaskhabar UP Facebook Page:
स्थानीय ख़बरें

उत्तर प्रदेश से

प्रमुख खबरे

आपका राज्य

Traffic

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

Copyright © 2017 Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved