• Aapki Saheli
  • Astro Sathi
  • Business Khaskhabar
  • ifairer
  • iautoindia
1 of 3

हजारों साल और एक करोड़ साल पहले के मानसून तंत्र पर जारी है रिसर्च, जाने यहां

सत्येंद्र शुक्ला

वास्कोडिगामा ( गोवा)/जयपुर । 100 साल से पहले हजारों साल और एक करोड़ साल पहले कैसा रहा होगा मानसून,इसको लेकर राष्ट्रीय अंटार्कटिक एवं समुद्री अनुसंधान केंद्र (एनसीएओआर) में रिसर्च जारी है। इसमें भारत के वैज्ञानिकों के अलावा यूएसए, जापान,यूरोपियन देश, ऑस्ट्रेलिया के वैज्ञानिक भी आईओडीपी प्रोग्राम के तहत रिसर्च कर रहे है। इस रिसर्च के जरिये आने वाले मानसून तंत्र के बारे में पूर्वानुमान लगाना संभव हो पा रहा है।
राष्ट्रीय अंटार्कटिक एवं समुद्री अनुसंधान केंद्र के निदेशक डॉ. एम रविचंद्रन ने बताया कि इस रिसर्च के जरिये ही हम यह पता लगा पा रहे है कि हजारों या करोड़ साल पहले मानसून कैसा रहा होगा। इसके लिए समुद्री तलछट के सैंपल के जरिये अनुसंधान केंद्र में शोध कार्य जारी है।






ये भी पढ़ें - अपने राज्य - शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

यह भी पढ़े

Web Title-Research on the monsoon system of thousands of years and one crore years ago continues, ncaor
खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
(News in Hindi खास खबर पर)
Tags: ncaor, national antarctic and ocean research center ncaor, goa, dr m ravichandran, director, national center for antarctic and ocean research, hindi news, news in hindi, breaking news in hindi, jaipur news, jaipur news in hindi, real time jaipur city news, real time news, jaipur news khas khabar, jaipur news in hindi
Khaskhabar Rajasthan Facebook Page:
स्थानीय ख़बरें

राजस्थान से

प्रमुख खबरे

आपका राज्य

Traffic

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

Copyright © 2017 Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved