• Aapki Saheli
  • Astro Sathi
  • Business Khaskhabar
  • ifairer
  • iautoindia
1 of 4

आयुर्वेद को विकल्प नहीं मुख्य चिकित्सा पद्धति के रूप में देखें : केन्द्रीय आयुष राज्यमंत्री

जयपुर। केन्द्रीय आयुष राज्यमंत्री श्रीपद नाइक ने कहा कि आयुर्वेद पद्धति को विकल्प के तौर पर न देखकर मुख्य चिकित्सा पद्धति के रूप में देखना चाहिए। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की स्वच्छ भारत-स्वस्थ भारत की परिकल्पना को साकार करने की दिशा में आयुर्वेद चिकित्सा पद्धति महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगी।

नाइक गुरुवार को जयपुर स्थित राष्ट्रीय आयुर्वेद संस्थान में तीन दिवसीय प्रथम राष्ट्रीय आयुर्वेद युवा महोत्सव के उद्घाटन समारोह को संबोधित कर रहे थे। यह महोत्सव केन्द्रीय आयुष मंत्रालय, राष्ट्रीय आयुर्वेद संस्थान, जयपुर तथा विज्ञान भारती की इकाई नेशनल आयुर्वेद स्टूडेंट्स एवं यूथ एसोसिएशन (नस्या) के सहयोग से आयोजित किया जा रहा है। कार्यक्रम में करीब तीन हजार युवा भाग ले रहे हैं।

केंद्रीय आयुष राज्यमंत्री ने कहा कि आने वाले समय में बड़ी संख्या में आयुर्वेद चिकित्सकों की आवश्यकता महसूस की जा रही है। ऎसे में आयुर्वेद में अध्ययनरत युवा चिकित्सकों को आत्मविश्वास के साथ अपने कॅरियर के प्रति गंभीर हो जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि रेलवे मंत्रालय, श्रम विभाग तथा सीमा सुरक्षा दल सहित विभिन्न विभाग अपने परिसर में आयुर्वेद चिकित्सकों की मांग कर रहे हैं। नाइक ने बताया कि केन्द्रीय मंत्रालय द्वारा युवाओं के लिए विभिन्न कार्यक्रम संचालित किए जा रहे हैं। इनमें से आयुर्वेद में पीएचडी के लिए 100 फैलोशिप दिए जाने के साथ ही आयुर्वेद को तकनीक के साथ जोड़ने के कई कार्यक्रम शामिल हैं।

चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री कालीचरण सराफ ने देश-विदेश से आए युवाओं का स्वागत करते हुए कहा कि जयपुर में अनेक विख्यात आयुर्वेदिक वैद्यों ने जन्म लिया है। उन्होंने अन्तरराष्ट्रीय स्तर पर नाम कमाया है। उन्होंने कहा कि राजस्थान पहला ऎसा राज्य है, जहां आयुर्वेदिक, होम्योपैथी, यूनानी, प्राकृतिक तथा योग चिकित्सा का अध्ययन करवाया जाता है। राजस्थान शीघ्र ही आयुर्वेद के क्षेत्र में मॉडल राज्य बन जाएगा। सराफ ने केन्द्रीय मंत्री से राष्ट्रीय आयुर्वेद संस्थान को डीम्ड यूनिवर्सिटी का दर्जा देने का भी आग्रह किया।

विधायक सुरेन्द्र पारीक ने कहा कि यह गर्व का विषय कि पहले आयुर्वेद महोत्सव का आयोजन जयपुर में किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि युवाओं के सर्वांगीण विकास के लिए आयुर्वेद की जानकारी जरूरी है। उद्घाटन समारोह में केन्द्रीय आयुष मंत्रालय के विशेष सचिव राजेश कोटेचा, सेन्टर काउंसिल ऑफ इंडियन मेडिसिन की अध्यक्ष वनिता मुरली कुमार, नेशनल एक्रिडेशन बोर्ड फॉर हॉस्पिटल की निदेशक गायत्री महेन्द्रु, विज्ञान भारती के महासचिव ए. जयकुमार तथा राष्ट्रीय आयुर्वेद संस्थान, जयपुर के निदेशक प्रो. संजीव शर्मा ने भी विचार व्यक्त किए।



ये भी पढ़ें - अपने राज्य - शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

यह भी पढ़े

Web Title-Jaipur News : National Ayurveda Youth Festival-2017 in Jaipur, central Aayush Minister of State Shripad Naik in Jaipur
खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
(News in Hindi खास खबर पर)
Tags: jaipur news national ayurveda youth festival-2017 in jaipur, central aayush minister of state shripad naik in jaipur, ayurvedic medicine, national institute of ayurveda jaipur, national ayurveda students and youth association, medical and health minister of rajasthan kalicharan saraf, jaipur hindi news, rajasthan hindi news, hindi news, news in hindi, breaking news in hindi, jaipur news, jaipur news in hindi, real time jaipur city news, real time news, jaipur news khas khabar, jaipur news in hindi
Khaskhabar Rajasthan Facebook Page:
स्थानीय ख़बरें

राजस्थान से

प्रमुख खबरे

आपका राज्य

Traffic

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

Copyright © 2017 Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved