• Aapki Saheli
  • Astro Sathi
  • Business Khaskhabar
  • ifairer
  • iautoindia
1 of 2

बच्चा चोरी का मामला: पीजीआई प्रबंधन जिम्मेदार अधिकारियों को बचाने की कोशिश में !

रोहतक। हर कोई जानता है कि अस्पतालों में इलाज होता है, लेकिन हरियाणा के सबसे बडे अस्पताल पीजीआई रोहतक में इलाज के अलावा भी बहुत कुछ होता है, जिससे कई बार प्रदेश शर्मसार हो चुका है। सरकारें आईं, सरकारें गईं, लेकिन यहां के हालात नहीं बदले। कभी पेपर लीक, कभी आंसर सीट चोरी, गर्भवती महिला की पिटाई, टॉयलेट में नवजात शिशुओं को फेंकना, पूर्व सीएम हुकुमसिंह के इलाज में लापरवाही जैसे पता नहीं कितने ही दाग इस अस्पताल पर लगे है, लेकिन इस बार तो हद ही कर दी गई। अब तो लेबर रूम से नवजात बच्चा चोरी कर लिया गया, बाकायदा प्लानिंग के साथ। हंगामा हुआ तो आनन-फानन में एक स्टॉफ नर्स को सस्पेंड कर दिया गया, लेकिन बाकी जिम्मेदार अधिकारियों तक आंच भी नहीं आने दी। इस घटना के बाद नवजात की मां अपना मानसिक संतुलन खो गई, जबकि बलि का बकरा बनी स्टॉफ नर्स खुद पर हुए एक्शन से मायूस है, क्योंकि गाज सिर्फ उसी पर गिराई गई है, जबकि जिम्मेदार डाक्टरों से किसी ने पूछताछ तक नहीं की।

रविवार का दिन समय दोपहर 3 बजकर 7 मिनट और जगह पीजीआई का लेबर रूम। यहां पर डेयरी मोहल्ला की रहने वाली रंजू ने डिलीवरी के बाद एक बच्चे को जन्म दिया। उससे आधे घंटे पहले एक अन्य महिला ने भी बच्चे को जन्म दिया, हालांकि बच्चा कमजोर था, इसलिए उसे मेडिकल केयर की जरूरत थी। दोनों महिलाओं की डिलीवरी को स्टॉफ नर्स बलजीत कौर ने असिस्ट कराया और बाद में दोनों बच्चों की नर्सिंग केयर करने की जिम्मेदारी भी बलजीत कौर पर ही डाल दी गई। बलजीत ने दोनों बच्चों की केयर की और पास में ही वॉस बेसिन में हाथ धोने लग गई, उसी वक्त एक बच्चा अचानक से गायब हो गया। बच्चा कहां गया और उसे कौन लेकर गया, इसका किसी को नहीं पता। लेबर रूम में उस वक्त 50 के करीब सुरक्षा गार्ड, स्टॉफ नर्स, डॉक्टर, सफाईकर्मी और बेयरर काम कर रहे थे। लेकिन किसी ने उनको नहीं देखा, सभी सीसीटीवी कैमरे भी बंद कर रखे थे, जिन्हें घटना के बाद दोबारा चालू किया गया।

दरअसल उसने 5 महीने पहले ही पीजीआई ज्वाईन किया था और फिलहाल उसका प्रोबेशन पीरियड चल रहा है, कायदे से प्रोबेशन पीरियड में सीनियर स्टॉफ की देखरेख में ही उनको काम करना होता है, लेकिन उसको ऐसे संवेदनशील स्थान पर अकेले ही जिम्मेदारी दी गई थी। तीसरा सवाल ये कि जो दूसरा नवजात शिशु था, उसे मेडिकल केयर की आवश्यकता थी, लेकिन डॉक्टर का कोई अता-पता नहीं था। चौथा सवाल ये कि इतनी भारी-सुरक्षा के बीच कैसे कोई अनजान व्यक्ति लेबर रूम में घुसकर बच्चा चोरी कर सकता है और उसके बाद आसानी से गायब भी हो जाता है।

सबकी अपनी-अपनी दलीलें हैं, लेकिन जिस मां ने 9 महीने अपने गर्भ में खून से सींचकर जिस लाल को जन्म दिया, वह उसका ठीक से मुंह भी नहीं देख पाई थी कि कोख के लुटेरों ने उसे गायब कर दिया। बेहाल मां पिछले 6 दिन से तड़प रही है, रो रोकर बुरा हाल है, अब तो उसका मानसिक संतुलन भी बिगड़ गया और एक ही रट लगाए हुए है कि जब तक उसका बच्चा नहीं मिलेगा, वह पीजीआई से नहीं जाएगी। उसकी सास दर्शना अपने परिवार और रिश्तेदारों के साथ मिलकर लेबर रूम के बाहर ही धरना देकर बैठ गई है, उनका भी यही कहना है कि पीजीआई से बच्चा चोरी कर लिया गया और अब छोटे कर्मचारियों को बलि का बकरा बनाकर अपनी जिम्मेदारी से पल्ला झाड रहे है, मेडिकल के बड़े अधिकारी इसके लिए जिम्मेदार है, उनके खिलाफ कार्रवाई होनी चाहिए और हमारा बच्चा मिलना चाहिए।


ये भी पढ़ें - अपने राज्य - शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

यह भी पढ़े

Web Title-rohtak pgi child missing case update
खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
(News in Hindi खास खबर पर)
Tags: rohtak pgi case, child missing case, rohtak update, haryana health deptt, doctors, hindi news, news in hindi, breaking news in hindi, rohtak news, rohtak news in hindi, real time rohtak city news, real time news, rohtak news khas khabar, rohtak news in hindi
Khaskhabar Haryana Facebook Page:
स्थानीय ख़बरें

हरियाणा से

प्रमुख खबरे

आपका राज्य

Traffic

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

Copyright © 2017 Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved