• Aapki Saheli
  • Astro Sathi
  • Business Khaskhabar
  • ifairer
  • iautoindia
1 of 1

मोहाली हमले के बाद इंटेल एजेंसियां हाई अलर्ट पर, जुटा रहीं सबूत और जानकारी

Intel agencies on high alert after Mohali attack, gathering evidence and information - Delhi News in Hindi

नई दिल्ली। मोहाली में पंजाब पुलिस के खुफिया मुख्यालय पर हमले के बाद केंद्रीय खुफिया एजेंसियां हरकत में आ गई हैं और इस बारे में और जानकारी जुटा रही हैं। इंटेलिजेंस ब्यूरो, रिसर्च एंड एनालिसिस विंग (रॉ), द नेशनल इनवेस्टिगेशन एजेंसी (एनआईए), मिल्रिटी इंटेलिजेंस, नेशनल टेक्निकल रिसर्च ऑर्गनाइजेशन और बॉर्डर सिक्योरिटी फोर्स की इंटेलिजेंस विंग भी इस मामले में जानकारी जुटा रही है।

इंटेल नेटवर्क के सूत्रों ने कहा कि सेंट्रल इंटेल विंग इसे आतंक का कार्य मानते हैं और जिम्मेदार समूह ने पुलिस भवन पर हमला करके एक संदेश देने की कोशिश की है, यह पड़ोसी देश में छिपे पाकिस्तान समर्थित खालिस्तानी तत्वों की करतूत हो सकती है।

उन्होंने यह भी कहा कि पंजाब की खुफिया शाखा को कथित तौर पर पाकिस्तान स्थित जैश-ए-मोहम्मद के एक कमांडर से दो धमकी भरे पत्र मिले हैं, जिसमें रेलवे स्टेशनों, पुलों, पूजा स्थलों और अन्य प्रमुख प्रतिष्ठानों और राज्य के राजनीतिक नेताओं पर एक बड़े हमले का संकेत दिया गया है।

इंटेलिजेंस ग्रिड के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि पहले भी सुरक्षा बलों पर ग्रेनेड फेंके गए थे, लेकिन पुलिस बलों को निशाना बनाने के लिए रॉकेट प्रोपेल्ड ग्रेनेड (आरपीजी) का इस्तेमाल करना सुरक्षा बलों के लिए ज्यादा चिंताजनक है।

इंटेल के सूत्रों ने यह भी कहा कि हरियाणा के करनाल से पांच मई को गिरफ्तार किए गए चार खालिस्तानी आतंकवादियों ने स्वीकार किया था कि हथियार और विस्फोटक पाकिस्तान से ड्रोन के जरिए लाए गए थे। उन्होंने कहा कि आरपीजी को पड़ोसी देश से पंजाब ले जाया गया होगा।

उन्होंने यह भी कहा कि उग्रवादी छत्तीसगढ़ में सुरक्षा बलों के शिविरों को निशाना बनाने के लिए इम्प्रोवाइज्ड अंडर बैरल ग्रेनेड लॉन्चर (यूबीजीएल) का इस्तेमाल कर रहे हैं, इसलिए एजेंसियां यह पता लगाने की कोशिश कर रही हैं कि ग्रेनेड लांचर उनसे खरीदे गए थे या नहीं।

इंटेलिजेंस विंग हिमाचल प्रदेश की विधानसभा की चारदीवारी पर खालिस्तानी तत्वों के हालिया पोस्टर और ग्रेफ्फिटी के लिंक को भी खंगाल रही है।

सुरक्षा ग्रिड के एक उच्च अधिकारी ने कहा कि हालांकि पंजाब पुलिस विस्फोट मामले की जांच कर रही है, लेकिन एक सीमावर्ती राज्य होने के नाते और जिस तरह से पाकिस्तान की इंटर सर्विसेज इंटेलिजेंस (आईएसआई) खालिस्तान समर्थक तत्वों को भारत में बड़े आतंकी हमलों को अंजाम देने के लिए प्रेरित कर रही है, सभी एजेंसियां साजिश के बिंदुओं को जोड़ने और देश में कुछ बुरी घटनाओं को अंजाम देने से पहले अपराधियों को पकड़ने के लिए कड़ी मेहनत कर रही हैं।

उन्होंने खुफिया सूचनाओं का हवाला देते हुए कहा कि आईएसआई की मदद से खालिस्तान समर्थक संस्थाओं (पीकेई) ने देश के प्रमुख शहरों में आतंकवादी हमले करने के लिए पंजाब में आईईडी, हथियार, गोला-बारूद, विस्फोटक सामग्री की तस्करी के अपने प्रयासों को जारी रखा है।

--आईएएनएस

ये भी पढ़ें - अपने राज्य / शहर की खबर अख़बार से पहले पढ़ने के लिए क्लिक करे

यह भी पढ़े

Web Title-Intel agencies on high alert after Mohali attack, gathering evidence and information
खास खबर Hindi News के अपडेट पाने के लिए फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करे!
(News in Hindi खास खबर पर)
Tags: mohali attacks, intel agencies on high alert, gathering evidence, information, hindi news, news in hindi, breaking news in hindi, real time news, delhi news, delhi news in hindi, real time delhi city news, real time news, delhi news khas khabar, delhi news in hindi
Khaskhabar.com Facebook Page:

प्रमुख खबरे

आपका राज्य

Traffic

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

Copyright © 2022 Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved