CP1 भारत आने वाले छठे अमेरिकी राष्ट्रपति होंगे ओबामा - www.khaskhabar.com
  • Aapki Saheli
  • Astro Sathi
  • Business Khaskhabar
  • ifairer
  • iautoindia

भारत आने वाले छठे अमेरिकी राष्ट्रपति होंगे ओबामा

published: 31-10-2010

नई दिल्ली। ड्वाइट डी. आइजनआवर के बाद भारत की यात्रा पर आने वाले राष्ट्रपति बराक ओबामा अमेरिका के छठे राष्ट्रपति होंगे। राष्ट्रपति ओबामा छह से नौ नवम्बर तक भारत यात्रा पर आ रहे हैं। राष्ट्रपति ओबामा से पहले रिचर्ड निक्सन, जिम्मी कार्टर, बिल क्लिंटन और जार्ज बुश राष्ट्रपति के रूप में भारत का दौरा कर चुके हैं। दिसम्बर 1959 में राष्ट्रपति आइजनआवर का भारत आना उनके एशिया दौरे का हिस्सा था। भारतीय संसद के संबोधन में उन्होंने "एक महान जागृति" जैसी बातें कही थीं। आइजनआवर के बाद जुलाई 1969 में भारत के दौरे पर आने वाले रिचर्ड निक्सन दूसरे अमेरिकी राष्ट्रपति थे। निक्सन राष्ट्रपति बनने के छह महीने बाद ही एक दिन के लिए भारत आए थे। राष्ट्रपति निक्सन की यह यात्रा भारत में राजनीतिक अशांति के समय हुई थी। तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी राष्ट्रपति जाकिर हुसैन के निधन के बाद उनके पद पर नियुक्ति को लेकर कांग्रेस पार्टी के विरोधियों का सामना कर रही थीं। इस घटना का उल्लेख पूर्व अमेरिकी राजदूत डेनिस कुक्स ने अपनी पुस्तक ""इंडिया एंड द युनाइटेड स्टेट्स : इस्ट्रैज्ड डेमोक्रेसिज 1941-1991"" में किया है। कुक्स ने लिखा है कि निक्सन की यह यात्रा भारत के लिए उपयोगी नहीं रही। जनवरी 1978 में भारत दौरे पर आने वाले जिम्मी कार्टर तीसरे अमेरिकी राष्ट्रपति थे। अपने तीन दिवसीय प्रवास के दौरान राष्ट्रपति कार्टर फोन पर अपने सहयोगियों को भारत के परमाणु महात्वाकांक्षाओं पर सहयोगात्मक रूख न अपनाने का निर्देश देते पाए गए थे। कार्टर ने हरियाणा के दौलतपुर गांव का भी दौरा किया था। कार्टर के बाद 22 वर्षो के अंतराल पर मार्च 2000 में भारत दौरे पर आने वाले बिल क्लिंटन चौथे अमेरिकी राष्ट्रपति थे। उनके साथ उनकी पुत्री चेल्सी भी आई थीं। अपने पांच दिवसीय प्रवास के दौरान क्लिंटन आगरा, जयपुर, हैदराबाद और मुम्बई भी गए। क्लिंटन की यात्रा की यह अवधि अब तक के सभी अमेरिकी राष्ट्रपतियों से लंबी थी। संसद के संबोधन में क्लिंटन ने भारत और पाकिस्तान के बीच बातचीत की प्रशंसा की और भारत से अपने परमाणु कार्यक्रमों पर संयम रखने का अनुरोध किया। मार्च 2006 में भारत की यात्रा पर आने वाले जार्ज बुश पांचवे अमेरिकी राष्ट्रपति थे। उनके साथ उनकी पत्नी लॉरा भी थीं। बुश और उनकी पत्नी भारत में मात्र 60 घंटे बिताए। बुश की यात्रा के दौरान भारत अपने असैन्य और सैन्य परमाणु सुविधाओं को अलग करने पर सहमत हुआ। यह कदम भारत-अमेरिका असैन्य परमाणु करार के लिए अत्यंत महत्वपूर्ण साबित हुआ। अब बराक ओबामा भारत की यात्रा पर आने वाले छठे अमेरिकी राष्ट्रपति होंगे। इसके अलावा ओबामा राष्ट्रपति निक्सन के बाद अपने कार्यालय के पहले चरण में भारत की यात्रा पर आने वाले दूसरे अमेरिकी राष्ट्रपति भी होंगे।

Khaskhabar.com Facebook Page:

प्रमुख खबरे

आपका राज्य

Traffic

जीवन मंत्र

Daily Horoscope

Copyright © 2022 Khaskhabar.com Group, All Rights Reserved