नाबालिग अपहर्ता 3 साथियों के साथ गिरफ्तार

published: 20-09-2010

लखनऊ। अपने तीन साथियो की मदद से एक बच्चे का अपहरण करने वाले 15 वर्षीय किशोर को लखनऊ पुलिस ने राज्य के सुल्तानपुर जिले से गिरफ्तार करके अपह्वत बच्चे को उनके कब्जे से सोमवार को मुक्त करा लिया। अपहरण के मास्टरमाइंड मोहनलाल (15) व उसके तीन साथियो राजा सिंह (13) दिनेश (20) व महेश (20) को लखनऊ पुलिस ने सुल्तानपुर के गौरीगंज इलाके से गिरफ्तार कर बच्चे को उनके कब्जे से सकुशल बरामद कर लिया। इन्होंने 15 सितंबर को लखनऊ के इंदिरानगर इलाके में रहने वाले व्यवसायी सर्वेश तिवारी के बेटे गोपाल का अपहरण किया था। लखनऊ के पुलिस उपाधीक्षक रोशन लाल जैन ने बताया कि मोहनलाल जो मूल रूप से गौरीगंज (सुल्तानपुर) निवासी है और लखनऊ के मीनाबाजार इलाके की एक दुकान में नौकरी करता था, अपहरण का मुख्य साजिशकर्ता हैं। अपने साथ काम करने वाले राजा सिंह के जरिए उसने बच्चे को उठवाया और फिर उसे लेकर गौरीगंज चला गया और वहीं अपने अन्य साथियो दिनेश व महेश के घर में बच्चे को छुपाकर फिरौती की रकम की मांग की। जैन ने कहा कि हमने बच्चे के पिता के हवाले से अखबार में विज्ञापन छपवाया कि अपह्वत बच्चे के बारे में कोई सूचना देने पर 50 हजार रूपये का इनाम दिया जाएगा। नीचे गाजीपुर (लखनऊ) थाना प्रभारी का निजी मोबाइल नंबर अंकित कर दिया। पुलिस के मुताबिक मोहनलाल ने अखबार में विज्ञापन पढ़कर 19 सितंबर को सुबह गाजीपुर थाना प्रभारी को बच्चो का पिता समझकर फोन किया और 20 लाख रूपये की फिरौती की मांग की। आखिर में चार लाख पर सौदा तय हुआ। जैन ने बताया कि सोमवार को थाना प्रभारी सादी वर्दी में बच्चे के पिता बनकर रूपये के साथ अपहर्ताओं द्वारा बताई जगह पर पहुंचे। उनके आस-पास पुलिस की टीमें भी मौजूद थीं। जब मोहनलाल पैसे लेने आया तो उसे पक़डकर निशानदेही पर बच्चे को बरामद कर लिया गया। चारों अपहर्ताओं को गिरफ्तार कर लिया गया।  

loading...
Advertisement
Khaskhabar.com Facebook Page:

Traffic

Advertisement

जीवन मंत्र

Daily Horoscope